narayansami अमित शाह का नारायणसामी पर आरोप, केंद्र सरकार से मिलने वाली आर्थिक सहायता को गाँधी परिवार तक पहुंचाया

पुडुचेरी – पुडुचेरी में विधान सभा चुनाव होने है जिसके चलते सियासी पारा चढ़ता जा रहा है। बता दे कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पुडुचेरी के पूर्व सीएम वी नारायणसामी पर आरोप लगाया है कि वी नारायणसामी गाँधी परिवार को पैसे पहुंचाते थे। इस आरोप को ख़ारिज करते हुए नारायणसामी ने कहा है कि अगर मैं गांधी परिवार को पैसे पहुंचाता था तो आप इस बात को साबित करके दिखाएं।

मेरे ऊपर लगाया गया यह आरोप गंभीर : नारायणसामी –
बताया जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह ने वी नारायणसामी पर आरोप लगाया है कि पीएम ने पुडुचेरी को 15,000 करोड़ रुपये भेजे और सीएम नारायणसामी ने गांधी परिवार को वो पैसे दिए। कांग्रेस नेता और पुडुचेरी के पूर्व सीएम वी नारायणसामी ने अमित शाह को जवाब देते हुए कहा है कि यह मेरे खिलाफ बहुत गंभीर आरोप है। मैं उन्हें यह साबित करने के लिए चुनौती देता हूं। इसके साथ ही नारायणसामी ने कहा कि अगर वह इस बात को साबित नहीं कर पाते हैं तो उन्हें देश और पुडुचेरी के लोगों से माफी मांगनी होगी।

कांग्रेस में योग्यता का कोई महत्त्व नहीं :अमित शाह –
बताया जा रहा है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस को लेकर कहा कि कांग्रेस पार्टी में योग्यता का कोई महत्त्व नहीं है। क्योंकि 2016 में पुडुचेरी में कांग्रेस ने ‘ए नमासिवयम’ के नेतृत्व में चुनाव लड़ा था लेकिन मुख्यमंत्री बनाया गया ‘नारायणसामी’ को। बता दे कि अब नमासिवयम भाजपा में है। पुडुचेरी में कांग्रेस सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि मुख्यमंत्री रहे वी नारायणसामी केंद्र सरकार की ओर से केंद्रीय सहायता के रूप में मिलने वाले 15 हजार करोड़ रुपये का धन नारायणसामी गांधी परिवार को पहुंचाते थे। शाह ने कहा कि यह धनराशि केंद्रशासित प्रदेश को प्रशासनिक और विकास कार्यो के लिए दी जाती थी। इन आरोपों को बेबुनयाद बताते हुए वी नारायणसामी ने कहा कि अगर अमित शाह यह बात साबित करने में असफल हुए तो तो मैं अपनी छवि और गांधी परिवार को नुकसान पहुंचाने के लिए एक गलत बयान देने के लिए उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर करूंगा।

असम के चुनावी रण में प्रियंका, ‘सरकार बनी तो CAA होगी रद्द’

Previous article

विधान परिषद में अटका यूपी गुंडा नियंत्रण विधेयक 2021, भेजा गया प्रवर समिति

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.