September 17, 2021 12:35 pm
featured यूपी

फतेहपुर: सदर तहसील का अमीन कब्जा रहा सरकारी जमीन, पढ़िए पूरी खबर

फतेहपुर: सदर तहसील का अमीन कब्जा रहा सरकारी जमीन, पढ़िए पूरी खबर

फतेहपुर: जिले में एक बड़ा ही अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां पर राजस्वकर्मी पर ही सरकारी जमीन कब्जाने का आरोप लगा है। अब भला जब सरकारी कर्मचारी ही ये सब करेगा तो अवैध कब्जा पर कार्यवाई कैसे होगी। ताजा मामला ललौली थाना क्षेत्र का है यहां के उरौली गांव में सदर तहसील में तैनात अमीन पर सरकारी बंजर जमीन कब्जाने का आरोप लगा है। मामले पर जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने जांच के आदेश दिए हैं।

जिला अधिकारी ने लिया संज्ञान

सोमवार की सुबह जिलाधिकारी जनता दर्शन के तहत पीड़ितों की समस्याएं सुन रहीं थीं। तभी वहां पर उरौली के रहने वाले हरदीप सिंह पहुंचे और जिलाधिकारी से सदर तहसील के अमीन शिवकुमार सिंह पर लिखित में आरोप लगाते हुए सरकारी जमीन कब्जाने की बात कही। यह सुनते ही जिलाधिकारी और उनके साथ मौके पर मौजूद अन्य अधिकारी भी सन्न रह गए। मामला राजस्व कर्मचारी से जुड़ा होने के कारण अधिकारियों ने इनपर विशेष कार्यवाई के निर्देश दिए। स्वयं जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने एसडीएम प्रहलाद सिंह से मामले की जांच करने को कहा है।

उरौली के रहने वाले हरदीप सिंह ने बताया कि ग्राम समाज की भूमि संख्या 1211ख है। यह ग्राम समाज के बंजर खाते में दर्ज है। 21 जून 2020 को सदर तहसील के अमीन शिवकुमार सिंह उपजिलाधिकारी से मौखिक सहमति मिलने पर सरकारी जमीन पर निर्माण कराने की बात कही।

जब यहां पर निर्माण कार्य शुरू हुआ तो उन्होंने ललौली थाने में 23 जून को निर्माण रुकवाने का प्रार्थना पत्र दिया। लेकिन जब तक निर्माण रुकता कि उसके पहले ही अमीन ने बाउंड्री करवा ली। मामले पर 24 जून को उप जिलाधिकारी से शिकायत हुई।

उन्होंने तहसीलदार को जांच के निर्देश दिया। तहसीलदार ने राजस्व निरीक्षक को निर्माण कार्य रोकने के आदेश दिए लेकिन किसी ने भी निर्माण कार्य नही रोंका और उसका निर्माण पूरा हो गया। इसके बाद मनबढ़ हुआ अमीन उसके बगल में बंजर पड़ी 1212 में भी छप्पर डालकर जमीन कब्जा कर रहा है।

शिकायतकर्ता ने मामले पर जल्द से जल्द कार्यवाई करते हुए अमीन को बर्खास्त करने की मांग की है। तो वहीं उप जिलाधिकारी सदर प्रमोद झा ने भी अपने स्तर से जांच करवाने के निर्देश दिए हैं।

Related posts

भाजपा ने कुर्सी पाने के लिए किए थे वादे: अखिलेश यादव

Arun Prakash

डिफेंस इण्डस्ट्रियल कॉरिडोर में निवेश को लेकर हुआ अनुबंध

Shailendra Singh

नीति आयोग का बयान, बिहार और यूपी के कारण होती है भारत की पिछड़े देशों में गिनती

lucknow bureua