अंबति रायडू के बॉलिंग एक्शन की होगी जांच- आईसीसी

अंबति रायडू के बॉलिंग एक्शन की होगी जांच- आईसीसी

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में खेले गए तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैट में मिली 34 रनों से हार के बाद अब टीम इंडिया को एक और झटका लगा है। मालूम हो कि सिडनी वनडे में पार्ट टाइम बॉलिंग करने वाले अंबति रायडू के गेंदबाजी एक्शन की आधिकारिक शिकायत की खबर है। बता दें कि रायडू ने सिडनी वनडे मैच के दौरान दो ओवर गेंदबाजी की थी और बिना किसी सफलता उन्होंने 13 रन दिए दिए थे।

 

अंबति रायडू के बॉलिंग एक्शन की होगी जांच- आईसीसी

 

इसे भी पढ़ें-IND vs WI :वनडे सीरीज का पहला मैच गुवाहाटी में खेला जा रहा,देखें अब तक का अपडेट

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने रविवार को ट्वीट करते हुए जानकारी दी है। आईसीसी के अनुसार संदिग्ध गेंदबाजी के लिए अंबति रायडू की शिकायत की गई है। रायडू को अब 14 दिनों के अंदर अपने बॉलिंग एक्शन की जांच करानी होगी। हालांकि, रिपोर्ट का नतीजा आने तक रायडू को गेंदबाजी करने की पर रोक लगा दी गई है। रायडू ने ऑस्ट्रेलिया की पारी के दौरान 22वें और 24वें ओवर में बॉलिंग की थी। रायडू टीम इंडिया के लिए मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन जरूरत पड़ने पर वह टीम के लिए पार्ट टाइम ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी बन जाते हैं।

इसे भी पढ़ें-वनडे सीरीजः 3 रिकॉर्ड बना सकते हैं विराट कोहली, सचिन का रिकॉर्ड खतरे पर

अंबति रायडू ने 46 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 3 विकेट प्राप्त किए हैं। वहीं उन्होंने 97 फर्स्ट क्लास मैचों में 10 विकेट और 151 लिस्ट A मैचों में 13 विकेट भी लिए हैं। आईसीसी के नियमों के अनुसार गेंद फेंकने के दौरान अगर किसी गेंदबाज का हाथ 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ता है तो वह एक्शन अवैध माना जाता है। ऐसे में उस गेंदबाज पर गेंदबाजी करने पर प्रतिबंध भी लगाया जाता है। ऐसी ही शिकायत रायडू की मिली है। बायो मैकेनिक एनालिसिस में रायडू अपने को सही साबित कर पाएंगें तभी उनके एक्शन को सहीं माना जाएगा।

इसे भी पढ़ें-इंग्लैंड टीम को लगा धक्का इंग्लिश बल्लेबाज एलेक्स हेल्स वनडे सीरीज में नहीं खेल पाएंगे