December 8, 2021 12:09 am
featured उत्तराखंड
WhatsApp Image 2021 07 02 at 13.00.47

Nirmal Almoraनिर्मल उप्रेती, संवाददाता

अल्मोड़ा के भैंसियाछाना मंडल की एक बैठक बाड़ेछीना में आयोजित की गयी। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष रवि रौतेला ने प्रतिभाग किया। उनके साथ जिले के मंत्री विनीत बिष्ट, मंडल के प्रभारी व सहमीडिया प्रभारी संदीप भोज भी बैठक में शामिल हुए।

‘दुनिया में केवल एक पार्टी जो कार्यकर्ता पर आधारित’

बैठक में आगामी होने वाले कार्यक्रमों पर विस्तृत चर्चा की गई। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष रवि रौतेला ने कहा कि दुनिया में केवल एक पार्टी है जो कार्यकर्ता आधारित है। इसमें किस कार्यकर्ता को कब क्या बनना है उस कार्यकर्ता को भी पता नहीं रहता है। हर कार्यकर्ता की पीड़ा को समझना, उसके दुख को अपना समझना ये इस पार्टी को अन्य पार्टियों से अलग बनाता है।

‘जरुतमंदों को आवश्यक सामग्री दी’

उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता हर समय जनता की समस्याओं के निदान के लिए कार्य करता रहता है। कोरोना काल में जब पूरी दुनिया कमरों में कैद हो गयी थी। तब भी भारतीय जनता पार्टी मैदान में थी और कोरोना से जंग लड़ रही थी। जरुतमन्दों को आवश्यक सामग्री उपलब्ध करा रही थी।

WhatsApp Image 2021 07 02 at 13.00.48

‘हर बूथ में कार्यकर्ता खड़ा करना है’

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता 2022 में पुनः भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मंडल प्रभारी संदीप भोज ने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि हमें हर बूथ में कार्यकर्ता खड़ा करना है। बूथ कमेटी के सदस्य भारतीय जनता पार्टी की रीढ़ है, और चुनावों में पन्ना प्रमुखों की भूमिका महत्वपूर्ण हैं। इसलिए शीघ्र पन्ना प्रमुखों का चयन कर लिया जाना चाहिए।

राजेंद्र सिंह राणा ने की अध्यक्षता

जिला मंत्री विनीत बिष्ट ने कार्यर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भैंसियाछाना ब्लॉक हमेशा से भारतीय जनता पार्टी का रहा है, और इस ब्लॉक से भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता पार्टी की नींव है। बैठक की अध्यक्षता मंडल अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राणा ने की और संचालन मंडल महामंत्री भूपेंद्र सिंह ने किया।

ये सभी रहे उपस्थित

इस दौरान कार्यक्रम में शिवराज सिंह सुयाल, मोती सिंह, बीएस बिष्ट, हेमंत सिंह, रवि नेगी, राजेंद्र सिंह बिष्ट, बालम सिंह रावत, संजीव कुमार, मोहन सिंह, नंदन प्रसाद, सुरेश राम, चंदन सिंह, महेंद्र सिंह, डूंगर सिंह नेगी, पप्पू लाल, संजय तिलारा, प्रकाश सिंह राजेंद्र सिंह बोरा, गोविंद सिंह सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

22 मई को मनाई जाएगी शनि जयंती, भगवान शनि की दृष्टि से क्यों डरते हैं लोग? जानिए किन लोगों को शानिदेव देते हैं सजा..

Mamta Gautam

उत्तरी-पश्चिमी दिल्ली के किराड़ी में घर में लगी आग, कोई हताहत नहीं

Neetu Rajbhar

मोदी का आग्रह, दो अक्टूबर को प्लास्टिक की विदाई के लिए आएं एक साथ

bharatkhabar