January 26, 2022 1:41 pm
Breaking News featured देश यूपी

‘ई-कॉमर्स शुद्धिकरण’ सप्ताह मनाएंगे देशभर के व्यापारी

‘ई-कॉमर्स शुद्धिकरण’ सप्ताह मनाएंगे देशभर के व्यापारी

लखनऊ: अगर भारत को आत्मनिर्भर बनाना है तो देश के उद्योग और देश के व्यापारियों को मज़बूत करना होगा। यह कहना है उत्तर प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय गुप्ता का। दरअसल, 14 से 21 जून तक देशभर के व्यापारी ई-कॉमर्स शुद्धिकरण सप्ताह मनाएंगे। इस दौरान सभी व्यापारी प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री को ई-मेल के माध्यम से विदेशी ई-कॉमर्स कंपनियों की जांच कराने के लिए ज्ञापन भेजेंगे।

ई-कॉमर्स शुद्धिकरण सप्ताह में देशभर के 4000 व्यापारी संगठन शामिल रहेंगे। इसी मुद्दे पर भारतखबर.कॉम ने संजय गुप्ता से विशेष बातचीत की है। उन्होंने बताया है कि देशभर में कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स और प्रदेश में उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के बैनर तले इसका आयोजन किया जायेगा।

क्या है व्यापारियों की मांग

उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के अध्यक्ष ने व्यापारियों की मांग पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा है कि, अमेज़न-फ्लिप्कार्ट और अन्य विदेशी ई-कॉमर्स कंपनियां, देश के नियम-कानून का उल्लंघन कर व्यापार कर रहीं हैं। इनकी जांच होनी चाहिए। व्यापारियों की मांग है कि विदेशी ई-कॉमर्स कंपनियां भारत के कानून के अंतर्गत ही व्यापार करें, ये सुनिश्चित करना होगा। ई-कॉमर्स कंपनियां, भारतीय उद्योगों को चौपट कर रहीं हैं। संजय गुप्ता ने यह भी कहा है कि इन कंपनियों ने कर्नाटक हाई कोर्ट में याचिका दी थी कि इनकी जांच न हो लेकिन इस याचिका को न्यायालय ने खारिज कर दिया।

चौपट हो रहा ट्रेडिशनल व्यापारियों का व्यापार

संजय गुप्ता का कहना है कि ई-कॉमर्स कंपनियां भारत में मनमाने तरीके से व्यापार कर रहीं हैं जिससे ट्रेडिशनल व्यापारियों का व्यापार चौपट हो रहा है। उन्होंने कहा है कि ई-कॉमर्स कंपनियों को सीमित दायरे में लाना जरुरी है अन्यथा देश का व्यापार पूरी तरह से घाटे में चला जाएगा। संजय गुप्ता का कहना है कि देश में ईस्ट इंडिया कंपनी की एंट्री व्यापार से ही हुई थी और देखते ही देखते देश गुलाम बन गया था। ई-कॉमर्स कंपनियां देश पर कब्ज़ा ज़माने के लिए नए सिरे से काम कर रही हैं, इन्हें रोकना जरूरी है। इसलिए सभी व्यापारी एकजुट होकर इन कंपनियों के खिलाफ हल्ला बोलेंगे।

ऐसे कैसे बनेगा आत्मनिर्भर भारत?

वहीं संजय गुप्ता ने आत्मनिर्भर भारत को लेकर भी अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा है कि जब तक देश के उद्योग और व्यापारियों को मजबूती नहीं दी जाएगी, तब तक देश आत्मनिर्भर नहीं बन पाएगा। उन्होंने कहा है कि देश के व्यापारियों के लिए कई नियम कानून हैं लेकिन, जो बाहर से व्यापार करने आ रहा उसके लिए कई तरह की छूट है। उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन के वक्त पूरे देश में व्यापार बंद था लेकिन ई-कॉमर्स कंपनियां व्यापार कर रहीं थीं। आवश्यक वस्तुओं के अलावा, ये अन्य वस्तुओं की डिलीवरी कर रहीं थीं। इससे ट्रेडिशनल व्यापारी नुकसान में था। आत्मनिर्भर बनाने के लिए देश के उद्योगों और देश के व्यापारियों को सहायता देनी होगी।’

Related posts

Breaking News

नरेश के बयान पर महिला नेताओं ने जताई आपत्ति, क्या ये मर्द की पहचान है?

Vijay Shrer

जम्मू-कश्मीर मानवाधिकार आयोग देगा फारूख अहमद को 10 लाख का मुआवजा

Rani Naqvi