featured यूपी

काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करेंगे अखिलेश यादव, मिशन 2022 के लिए तैयारी

काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करेंगे अखिलेश यादव, मिशन 2022 के लिए तैयारी

वाराणसी: काशी विश्वनाथ मंदिर में आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव दर्शन करेंगे। वह इन दिनों पूर्वांचल दौरे पर हैं। यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए समाजवादी पार्टी ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

यह भी पढ़ें: मास्क चेकिंग अभियान वाली खबर निकली फेक, यूपी पुलिस ने जारी किया बयान

संकट मोचन मंदिर में मांगी जीत की दुआ

कल 25 फरवरी को अखिलेश यादव वाराणसी स्थित संकट मोचन मंदिर पहुंच गए। वहां उन्होंने पूजा अर्चना की और मंदिर के महंत से कई मुद्दों पर बातचीत भी की। उन्होंने कहा कि मैं यहां जीत का आशीर्वाद लेने आया था, यहां से हरी झंडी मिलने का मतलब जीत पक्की है।

काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करेंगे अखिलेश यादव, मिशन 2022 के लिए तैयारी

अखिलेश ने कहा भगवान ने भी जीत के संकेत दिए हैं और जनता भी बदलाव की मांग कर रही है। ऐसे में अब सपा को रोक पाना आसान नहीं होगा। भाजपा की सरकार से प्रदेश की जनता बिल्कुल खुश नहीं है।

आज काल भैरव के भी करेंगे दर्शन

अखिलेश यादव आज बाबा विश्वनाथ और काल भैरव के दर्शन करेंगे। पूर्वांचल से सपा ने अपनी कमर कसनी शुरु कर दी है, इसी का परिणाम है कि सपा अध्यक्ष वाराणसी सहित अन्य जगहों पर दौरे कर रहे हैं। यहां के बाद उनका आगे का प्लान मिर्जापुर जाने का है।

बेरोजगारी और मंहगाई पर सरकार को घेरा

भाजपा राज में पेट्रोल-डीजल के दाम तेजी से बढ़ रहे हैं, इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा को जनता के सवालों का जवाब देना चाहिए। बढ़ती मंहगाई और बेरोजगारी पर चुप्पी भारी पड़ेगी। सपा का इंतजार जनता कर रही है, इसीलिए यह साफ साफ दिख रहा है कि 2022 में सपा की सरकार बनने जा रही है।

उत्तर प्रदेश की राजनीति में पूर्वांचल के क्षेत्र काफी महत्वपूर्ण हैं। वाराणसी, जौनपुर, आजमगढ़ जैसे इलाके प्रदेश की राजनीति की दिशा तय करते हैं। अखिलेश यादव खुद आजमगढ़ से सांसद भी हैं। इसीलिए सपा अध्यक्ष ने अपने अभियान की शुरुआत पूर्वांचल के इलाकों से की है।

Related posts

भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पांड्या के घर हुआ बेटे का जन्म..

Rozy Ali

दो हफ्तों में ही सीएम योगी ने लिया हार का बदला, राज्यसभा चुनावों में 59 सीटों में से 28 पर बीजेपी का कब्जा

rituraj

दावा- 22 के चुनावों में अखिलेश यादव को मिलेगा ब्राह्मणों का आशीर्वाद

Shailendra Singh