Breaking News featured देश राज्य

राहुल गांधी के बाद अब सैम पित्रोदा ने मानी गलती, बोले 1984 दंगे पर बयान गलत समझ लिया गया

sam pitroda राहुल गांधी के बाद अब सैम पित्रोदा ने मानी गलती, बोले 1984 दंगे पर बयान गलत समझ लिया गया

एजेंसी, नई दिल्ली। 1984 सिख दंगे को लेकर पीएम मोदी के भाषण में कांग्रेस को घेरे जाने के बाद प्रतिक्रिया में ‘हुआ तो हुआ’ कह कर घिरे इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा शुक्रवार सुबह बैकफुट पर जाते दिखे हैं। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि उनके साक्षात्कार में से ‘तीन शब्द’ निकाल कर गलत तरीके से पेश कर दिया गया।
शुक्रवार की सुबह उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट कर अपने बयान का बचाव किया। कहा कि मैं अपने सिख भाइयों-बहनों का दर्द समझता हूं। मैं समझता हूं कि 1984 में उन्हें काफी दर्द झेलना पड़ा। उन्होंने कहा कि भाजपा मेरे तीन शब्द को गलत तरीके से पेश कर वास्तविकता से दूर भाग रही है और हमें बांटकर अपनी नाकामियां छिपा रही है। दुखद है कि उनके पास बताने को कुछ भी सकारात्मक नहीं है।
उन्होंने कहा कि राजीव गांधी और राहुल गांधी ने कभी भी किसी जाति-पंथ के आधार पर लोगों को बांटकर टारगेट नहीं किया है। ऐसा करना भाजपा के नेताओं की आदत रही है, क्योंकि वह अपनी परफॉर्मेंस पर, देश को आगे ले जाने के लिए अपने विजन पर बात ही नहीं कर सकते। उनके पास बेरोजगारी दूर करने को लेकर कोई विजन ही नहीं है।
पीएम मोदी ने भाषण में घेरा था, पित्रोदा ने दी थी प्रतिक्रिया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के रामलीला मैदान की अपनी चुनावी सभा में सिख दंगे के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरा था। उन्होंने कहा था कि इन्हें अपने पूर्वजों के नाम पर वोट तो चाहिए, लेकिन जब उन्हीं के कारनामे खंगाले जाते हैं तो इन्हें मिर्च लग जाती है…कांग्रेस को बताना पड़ेगा कि 1984 के सिख दंगों का हिसाब कौन देगा?

Related posts

अभी नहीं बढ़ेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम

shipra saxena

वर्चुअल संवाद में प्रधानमंत्री ने कोरोना को बताया बहरूपिया, 54 जिलों के शीर्ष अधिकारियों से वार्ता

Aditya Mishra

बुलंदशहर हिंसा : 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया आरोपी फौजी

Ankit Tripathi