August 20, 2022 11:02 am
उत्तराखंड

फजीहत के डर से भाजपा कर रही है बयानबाजी: हरीश रावत

harish rawat फजीहत के डर से भाजपा कर रही है बयानबाजी: हरीश रावत

देहरादून। सचिवालय में सी.एम के द्वारा बैठक और अधिकारियों को निर्देश के मामले में भाजपा के कड़े विरोध को देखते हुए मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी पलटवार किया है। मुख्यमंत्री ने भाजपा अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट से आचार संहिता पर दिये बयानों पर उनसे राज्य की जनता से क्षमा मांगने को कहा है।

harish rawat फजीहत के डर से भाजपा कर रही है बयानबाजी: हरीश रावत

उन्होंने कहा कि भट्ट द्वारा अधिकारियों को उनके निर्देश देने व सचिवालय में जाकर शासकीय कार्य व विशेष फाईलों के निस्तारण पर दिये बयान पर स्पष्ट प्रमाण प्रस्तुत करने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा नेता जनता द्वारा नकारे जाने व अपने प्रधानमंत्री व राष्ट्रीय अध्यक्ष की फजीहत कराने का ठीकरा अपने सर पर फूटने की आशंका से वह बयानबाजी करने लगे हैं।

रावत ने कहा कि चुनाव आयोग के हर निर्देश व आचार संहिता का वह मुख्यमंत्री के रूप में पूर्ण सम्मान करते हैं,लेकिन भाजपा नेता बतायें कि चुनाव आयोग के किस निर्देश से मुख्यमंत्री के रूप में उनको आपदा, वनाग्नि जैसे विषयों पर कार्य करने की रोक लगी है। क्या 31 मार्च को समाप्त हो रहे वित्तीय वर्ष में केन्द्र सरकार को भेजे जाने वाले उपयोगिता प्रमाण-पत्र, केन्द्र में लम्बित विभिन्न परियोजनाओं के धन की मांग की पैरवी करना मुख्यमंत्री के संवैधानिक दायित्व निर्वाहन का हिस्सा ही तो है।

Related posts

देवभूमि में जल्द दौड़ेगी मेट्रो, आर.मीनाक्षी सुन्दरम की पहल लाई रंग

piyush shukla

बजट में एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की घोषणा से हर्ष

Rani Naqvi

उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने से 10 लोगों की मौत, रेस्क्यू कार्य में जुटी टीम

Aman Sharma