featured दुनिया मनोरंजन

अफगानिस्तान की हालात पर झलका पॉप सिंगर आरियाना का दर्द, अशरफ गनी को बताया कायर

2021 8image 08 46 175711838re ll अफगानिस्तान की हालात पर झलका पॉप सिंगर आरियाना का दर्द, अशरफ गनी को बताया कायर

अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा हो जाने से वहां का हर नागरिक परेशान है। आज आदमी से लेकर वहां की मशहूर हस्तियों को भी अफगानिस्तान छोड़ना पड़ा। इसी कड़ी में एक नाम है अफगान की मशहूर पॉप सिंगर आरियाना सईद, दरअसल तालिबान के डर से उनको भी अपना वतन छोड़ना पड़ा। वतन छोड़ने के बाद जहां आरियाना दुखी हैं वह अफगानी राष्ट्रपति पर गुस्सा है। आरियाना ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि अशरफ गनी कायर निकले वह अपने वतन को कुछ पाकिस्तानियों के हाथ में छोड़कर भाग गए।

download 8 अफगानिस्तान की हालात पर झलका पॉप सिंगर आरियाना का दर्द, अशरफ गनी को बताया कायर

बता दें कि मीडिया से बात करते हुए कुछ पाकिस्तानियों के हाथ में बहुत ही आसानी से दे गए। उन्होंने हमारे देश को जलील किया है। उसे निचा दिखाया है। हमारी आर्मी और मिलिट्री को लड़ने का मौका नहीं दिया और उसे छोटा महसूस कराया। कोई भी देश बिना लीडर के नहीं लड़ सकता तो अफगानिस्तान कैसे बिना किसी लीडर के लड़ सकता है। अशरफ गनी ने जो भी किया है उसके लिए मैं और मेरा वतन उनको कभी माफ नहीं करेगा। अशरफ गनी कायर हैं। जब पूरा अफगानिस्तान खाली हो रहा था तो वह भाषण दे रहे थे। कि वह उन सबके साथ है लेकिन कुछ घंटों के बाद ही वह देश छोड़कर भाग गए और आवाम को अकेला छोड़ दिया।

20afghansinger 1503171957281 superJumbo अफगानिस्तान की हालात पर झलका पॉप सिंगर आरियाना का दर्द, अशरफ गनी को बताया कायर

वहीं आरियाना ने अपना दर्द और गुस्सी जाहिर करते हुए कहा कि अफसोस तो इस बात है कि उन्होंने बिना लड़े ही अफगानिस्तान को तालिबान के हाथ में सौंप दिया। अशरफ गनी ने सेना को लड़ने की परमीशन नहीं दी। जिसकी वजह से कुछ दिनों में तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया। जो भी इंटरनेशन पावर थी जो हमें अलकायदा और तालिबान से आजादी दिलाने का भरोसा दिलाती थी उन्होंने भी अफगानिस्तान को बीच रास्ते में छोड़ दिया। आरियाना ने 20 साल अफगानिस्तान में रहने के बाद डॉलरों खर्च करने के बाद अफगानिस्तान छोड़ दिया है।

fcfb7c14bf अफगानिस्तान की हालात पर झलका पॉप सिंगर आरियाना का दर्द, अशरफ गनी को बताया कायर

उन्होंने कहा कि जो भी अफगानिस्तान के बच्चों और महिलाओं के साथ हो रहा है वह ये सब के लिए नहीं बने हैं। सबकों मिल कर पाकिस्तान पर दबाव बनाना चाहिए। क्योंकि अफगानिस्तान का जो भी हाल है वो उसी की वजह से है। तालिबान को पाकिस्तान से फंड़िंग होती है। इनका बेस पाकिस्तान में है। जहां तालिबानियों के ट्रेनिंग दी जाती है।

Related posts

फिल्म में इस सीन से राज खुलने के डर से घबराई प्रीती जिंटा

Srishti vishwakarma

अयोध्या : राम नगरी पहुंचेंगे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी

Neetu Rajbhar

यूपी: निवेशकों की पहली पसंद बन रहा उत्तर प्रदेश, सीएम योगी बोले- ये नया उत्तर प्रदेश है, 6 साल में देश की नंबर वन अर्थव्यवस्था बनाएंगे

Saurabh