बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर रोक लगाने की मांग, हाईकोर्ट के इस आदेश का दिया हवाला

लखनऊः बहुजन समाज पार्टी आगमी 23 जुलाई को अयोध्या में ब्राह्मण सम्मेलन करने जा रही है। बसपा के इस सम्मेलन पर रोक लगाने के लिए मुख्य सचिव को पत्र लिखा गया है। वकील मोतीलाल यादव ने मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश, अयोध्या जिलाधिकारी अनुज कुमार झा और अयोध्या के एसएसपी को पत्र लिखकर ब्राह्मण सम्मेलन रोकने की मांग की है।

हाईकोर्ट के आदेश का दिया हवाला

बता दें कि उत्तर प्रदेश में जातीय सम्मेलनों पर हाईकोर्ट ने रोक लगा रखी है। हाईकोर्ट के इसी आदेश का हवाला देते हुए मोतीलाल ने 23 जुलाई को होने वाले ब्राह्मण सम्मेलन को रोकने की मांग की है। पत्र में उन्होंने लिखा है कि अगर ये सम्मेलन होता है तो वे कोर्ट में कंटेम्प्ट फाइल करेंगे।

रामलला के दर्शन कर शुरूआत करेंगे ब्राह्मण सम्मेलन

यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारियां तेज कर रहे हैं। इसी कड़ी में बसपा भी प्रदेश के ब्राह्मण को साधने के लिए ब्राह्मण सभा का आयोजन करने जा रही है। इसकी शुरुआत 23 जुलाई को रामनगरी अयोध्या से की जायेगी। सम्मेलन की शुरुआत सतीश चंद्र मिश्रा रामलला के दर्शन के साथ करेंगे। बता दें कि सतीश मिश्रा 23 जुलाई से 29 जुलाई तक लगातार 6 जिलों में ब्राह्मण सम्मेलन की शुरूआत करेंगे।

ब्राह्मण गठजोड़ के लिए मायावती का मास्टर स्ट्रोक

Previous article

सीतापुर में बारिश का कहर, तीन गांवों में दीवारें ढहने से सात लोगों की मौत

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured