देश featured राज्य

बेटी के साथ जन्मदिन मानने को लेकर, भय्यूजी महाराज से नाराज हो गई थीं पत्नि

Untitled 204 बेटी के साथ जन्मदिन मानने को लेकर, भय्यूजी महाराज से नाराज हो गई थीं पत्नि

नई दिल्ली।  भय्यूजी महाराज की खुदकुशी अभी तक लोगों के लिए एक सवाल बनाई हुई हैं। हर कोई यह जानना चाहता है कि आखिर भय्यूजी महाराज ने खुदखुशी क्यो की। भय्यूजी महाराज की खुदकुशी के प्रश्न का जबाव ढूंढ़ने के लिए पुलिस मामले के हर पहलू की बारीकी से पड़ताल कर रही है। इसी सिलसिले में इंदौर पुलिस ने शुक्रवार को भय्यूजी महाराज की दो बहनों, बेटी कुहू, उनके ड्राइवर शरद सेवलकर, आश्रम के सेवादारों, बचपन के साथियों और एक कंस्ट्रक्शन व्यवसायी के साथ करीब सात घंटे पूछताछ की।

Untitled 204 बेटी के साथ जन्मदिन मानने को लेकर, भय्यूजी महाराज से नाराज हो गई थीं पत्नि

बहनों ने दिया बयान

भय्यूजी महाराज की खुदकुशी को लेकर जब पुलिस ने भय्यूजी की बहनों से बात की तो उनकी बहनों ने इस मामले में पूरी तफ्तीस ेपुलिस से बात की।  मधुमति ने पुलिस को बताया कि कुहू पिता की दूसरी शादी के लिए बिल्कुल राजी नहीं थी। दूसरी शादी की बात सुनते ही कुहू पिता पर भड़क गई थी।

ये भी पढ़े भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मार कर इंदौर में की खुदकुशी
बेटी के साथ जन्मदिन मनाने पर गुस्सा

भय्यूजी महाराज की खुदखुशी का जांच में ये बात निकलकर सामने आई की  भय्यूजी महाराज की बेटी और पत्नि दोनों ही एक दूसरे को पसंद नहीं करती है।  भय्यूजी महाराज की दूसरी शादी के तुरंत बाद ही दोनों के बीच विवाद होने लगा था। इसी साल 29 अप्रैल को महाराज का जन्मदिन था। कुहू उस समय पुणे में थी। उसने पिता का जन्मदिन साथ मनाने के लिए उन्हें पुणे अपने पास बुला लिया। भय्यूजी महाराज 28 अप्रैल को फ्लाइट से पुणे पहुंचे और रात 12 बजे केक काट कर बेटी के साथ अपना जन्मदिन मनाया। इस पर उनकी पत्नी डॉ. आयुषी नाराज हो गईं। उन्होंने कहा कि वे भय्यूजी महाराज को उनके जन्मदिन पर सबसे पहले बधाई देना चाहती थीं और उनके साथ रात में ही केक काटना चाहती थीं। आयुषी को लगा कि उसे नजरअंदाज कर दिया गया।

ये भी पढ़े भय्यूजी महाराज के गोली मारकर आत्महत्या मामले में नया मोड़, बरामद हुआ सुसाइड नोट
लड़ाई झगड़े से अवसाद में पहुंचे 

शादी के बाद भय्यूजी महाराज की जिंदगी में लड़ाई झगड़े की भरमार जिसकी वजह से भय्यूजी महाराज अवसाद का शिकार हो गए थे। 29 अप्रैल को वापस इंदौर अपने घर लौटे तो आयुषी और भय्यूजी के बीच इस बात को लेकर कहासुनी हुई। इस तरह छोटी-छोटी बातों से पैदा हुए कलह से भय्यूजी तनावग्रस्त होने लगे और आखिरकार अवसाद की स्थिति में पहुंच गए थे। पुलिस को दिए बयानों में भय्यूजी महाराज की बहनों ने कुहू और आयुषी दोनों की ही गलती बताई। छोटी बहन आराधना ने बताया कि कुहू के जन्म के बाद महाराज के दिन बदल गए इसलिए वे उसे बहुत प्यार करते थे।

 

Related posts

लड़की को सात बार बेचा, रेप किया और फिर पागल से करा दी शादी

Yashodhara Virodai

दिल्ली में ऑटो हड़ताल, यात्रियों से बदसलूकी

bharatkhabar

जानिए: अपने लेख से अंग्रेजों को हिलाने वाले पत्रकार गणेशशंकर विद्यार्थी के बारे में

Rani Naqvi