जब महिला ने तेंदुए को दिया महिला को धोबी पछाड़

पिथौरागढ़। उत्तराखण्ड के पिथौरागढ़ में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने सबको चौंका दिया है। बताय़ा जा रहा है कि जिले में बेरीनाग तहसील के ऐराड़ी गांव में तेंदुए ने एक महिला पर हमला कर दिया। हमले के दौरान साहस दिखाते हुए महिला भी उससे भिड़ गई और तेंदुए को भागने के लिए मजबूर कर दिया।

दरअसल ऐराड़ी गांव की महिला हेमा देवी गांव के पास के जंगल में जानवरों को चरा रही थी। तभी पीछे से तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। अचानक हुए इस हमले में पहले तो हेमा देवी घबरा गई, लेकिन फिर किसी तरह साहस बटोरा और तेंदुए से भिड़ गई। यह सब गांव के पास हो रहा था, लेकिन गांव के लोग घर के कार्यों में व्यस्त थे। किसी की नजर हेमा और तेंदुए तक नहीं गई। हेमा के सामने अपने प्राण बचाने की चुनौती थी तो प्राण बचाने के लिए तेंदुए से उसकी करीब दस मिनट तक उसकी लड़ाई होती रही।

इस दौरान तेंदुए ने हेमा के हाथ, कमर और गर्दन पर पंजे मारे। हेमा की चीख जब अधिक तेज हुई तो गांव की महिलाओं का ध्यान गया और पास जाकर नजारा देखा तो डर के मारे सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। महिलाओं के हो हल्ला मचाने और पत्थर फेंकने पर तेंदुआ हेमा को छोड़ कर जंगल की तरफ भाग गया।

ग्रामीणों की सूचना पर वन क्षेत्राधिकारी एनपी ग्वासीकोटी वन कर्मियो के साथ ऐराड़ी गांव पहुंच चुके हैं। तेंदुए को पकड़ने के लिए पिथौरागढ़ से ट्रेकुलाइजर गन मंगाई गई है।