September 20, 2021 6:17 pm
featured धर्म

सावन में 20 साल बाद बन रहा हरियाली अमावस्या का अनोखा संयोग..

nautre 2 सावन में 20 साल बाद बन रहा हरियाली अमावस्या का अनोखा संयोग..

सावन के महीने में हर साल हरियाली अमावस्या आती है। लेकिन इस बार हरियाली अमावस्या का अनोखा संयोग बन रहा है। जिसको लेकर पंडितों में अलग ही तरह की चर्चा हो रही है। 20 जुलाई 2020 को हरियाली अमावस्या मनाई जाएगी। इस साल हरियाली अमावस्या के दिन चंद्र, बुध, गुरु, शुक्र और शनि ग्रह अपनी-अपनी राशियों में रहेंगे।

nature 1 सावन में 20 साल बाद बन रहा हरियाली अमावस्या का अनोखा संयोग..
हरियाली अमावस्या क्या है?
सावन महीने में आने वाली अमावस्या बहुत महत्वपूर्ण होती है। इसे हरियाली अमावस्या कहा जाता है। हरियाली अमावस्या कई मायनों में खास है। इस पर प्रकृति पूजन भी किया जाता है। हिन्दू मान्यता के मुताबिक यह अमावस्या सावन में आती है, इसलिए इस दिन दान किया जाता है। इससे भगवान शिव प्रसन्न होते हैं।

सावन में आने वाली अमावस्या की एक विशेष पूजन विधि भी है। इस दिन पितृ तर्पण भी किया जाता है। इससे पूर्वजों की आत्मा को शांति मिलती है। इस विशेष तरह का भोजन भी बनाया जाता है, जो कि ब्राम्हणों को खिलाया जाता है। खास बात यह है कि इस दिन भगवान शिव की पूजा भी की पूजा की जाती है।

https://www.bharatkhabar.com/big-operation-against-khonsa-area-of-%e2%80%8b%e2%80%8barunachal-pradesh/
भविष्य पुराण के अनुसार जिन्हें संतान न हो, उनके लिए वृक्ष ही संतान हैं अत: इस दिन निष्काम भाव से वृक्ष लगाना चाहिए।
अगर आप भी भगवान शिव से फल पाना चाहते हैं तो हरियाली अमावस्या पर भगवान शिव की पूजा करने के साथ-साथ पड़े जरूर लगाएं।

Related posts

बिहार में बुधवार को फिर चार नए मामले सामने आए, कुल मिलाकर 72 पॉजिटिव मामले

Rahul srivastava

पुलवामा में सीआरपीएफ के गश्ती दल पर हमला, एक जवान घायल

Rahul srivastava

कांग्रेस ने कपिल सिब्बल को केस छोड़ने की हिदायत दी: सूत्र

Rani Naqvi