untitled 11 प्रदेश के 75 जनपदों में 83 कोविड चिकित्सालय हुए संचालित 
लखनऊः कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या काफी तेजी के साथ प्रदेश भर में बढ़ रही हैं। इसको लेकर के उत्तर प्रदेश सरकार व स्वास्थ्य विभाग दोनों ही चिंतित है। कोरोना मरीजों का आंकड़ा दिन प्रतिदिन तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है। इन सबके बीच में चिंता का विषय  कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़ों में बढ़ोतरी है।   इसके बाद आज इन परिस्थितियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा प्रदेश भर में 83 कोविड अस्पताल शुरू किए गए हैं।
लेवल एल 2 व एल 3 के 83 अस्पताल में 17235 बेड शुरू
प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थय विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी है कि  कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रदेश के सभी 75 जनपदों में 83 कोविड चिकित्सालय संचालित किये जाने का निर्णय लिया गया है। ये चिकित्सालय एल-3 तथा एल-2 श्रेणी के हैं। इन 83 चिकित्सालयों में कुल 17235 बेड है । जिनमें वेंटिलेटर्स और ऑक्सीज़न युक्त बेड भी हैं।
अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी है कि इन 83 अस्पतालों के अतिरिक्त जन सामान्य को कोविड चिकित्सा सुगमता से उपलब्ध कराये जाने के लिए जनपदों में अन्य अस्पतालों को भी कोविड अस्पताल के रूप में अधिसूचित किया गया है।
इन पांच जिलों में कोरोना संक्रमण सबसे ज्यादा
उत्तर प्रदेश के 5 जिलों में कोरोना का संक्रमण सबसे ज्यादा है, जिसमें टॉप पर राजधानी लखनऊ बनी हुई है। बीते 24 घंटे में यहां पर 4059 कोरोना के नए मरीज सामने आए हैं। वहीं, गौतम बुध नगर में 221 , वाराणसी में 983, कानपुर नगर में 706, प्रयागराज में 1460 नए मामले सामने आए हैं।
बीते 24 घंटे में 48 लोगों की कोरोना से मौत
उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ आप को रोने पर मरीजों की मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ने लगा है अभी तक 24 घंटे में प्रदेश भर में 48 लोगों की कोरोनावायरस हो चुकी है जिनमें राजधानी लखनऊ में सबसे ज्यादा 23 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। इसके अतिरिक्त वाराणसी में 2, प्रयागराज में दो, कानपुर नगर में 6, कुशीनगर में दो लोगों की मौत हुई है।

UP: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच राज्‍यपाल ने कह दी इतनी बड़ी बात

Previous article

UP: भाजपा विधायक ने ही चुनाव आयोग के आदेश को बता दिया तानाशाही, जानिए पूरा मामला

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.