featured यूपी

आगराः नकली शराब पीने से 8 लोगों की मौत, लीपापोती में जुटा जिला प्रशासन

आगराः नकली शराब पीने से 8 लोगों की मौत, लीपापोती में जुटा जिला प्रशासन

आगराः अलीगढ़ शराब कांड के बाद जहरीली शराब माफियाओं के खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस और आबाकारी विभाग ने कई जगह छापेमारी कार्रवाई की और नकली शराब जब्त की, लेकिन प्रदेश में अभी भी जहरीली नकली शराब का कारोबार फल फूल रहा है। ताजा मामला आगरा जिले का है, जहां नकली शराब पीने से आठ लोगों की मौत हो चुकी है।

पूरा मामला डौकी थाना क्षेत्र के कौलारा कला गांव और ताजगंज थाना क्षेत्र के देवरी गांव का है। इन दोनों गांव में नकली शराब पीने से अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है।

शराब पीने के बाद हुई मौत

वहीं, जहरीली शराब की वजह से हुई मौतों का जिम्मेदार प्रशासन को माना जा रहा है। वहीं, जिला प्रशासन और आबकारी विभाग इस मुद्दे को दबाने के प्रयास में जुटा हुआ है। प्रशासन पोस्टमार्टम रिपोर्ट के इंतजार में है। लोगों का आरोप है कि प्रशासन मौतों की वजह दूसरा कारण बताकर मामले की लीपापोती कर रहा है। वहीं, आबकारी अधिकारी नीरेश पलिया इस मामले में सवालों के कटघरे में हैं।

पुलिस ने मामला सामने आने के बाद कार्रवाई के नाम पर शराब की चार दुकानों को सील कर दिया। हलांकि पुलिस ने अभी ये पुष्टि नहीं कि है कि मौतों की वजह नकली शराब है। आगरा पुलिस अधीक्षक अशोक वेंकट ने जानकारी देते मामले में सफाई देते हुए बताया कि कि मौत की असली वजह का अभी पता नहीं चल पाया है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही खुलासा किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि कौलारा कलां गांव के राधे (42), अनिल (34)और रामवीर (40) तथा बारकुला गांव के गया प्रसाद (50) की मौत हुई है। अनिल के पिता श्री निवास (65) ने आरोप लगाया कि उसके बेटे और उसके गांव के दो अन्य लोगों की मौत गांव की एक दुकान से खरीदी गयी नकली शराब के पीने से ही हुई है।

Related posts

80 वर्ष की उम्र में 60 वर्ष की कर्मचारी सेवा

Shailendra Singh

उत्तराखंडःपर्यटन को लेकर सतपाल महाराज का नया प्रयोग

mahesh yadav

राहुल गांधी ने ट्वीट पर मिल्खा सिंह को दी श्रद्धांजलि लेकिन ट्विटर यूजर्स ने उन्हें उन्हें किया ट्रोल, जानें क्या है माजरा

Rahul