September 26, 2022 3:00 pm
featured यूपी

गोरखपुर में 78 गांव बाढ़ की चपेट में, राहत सामग्री पहुंचाने में जुटा प्रशासन

गोरखपुर में 78 गांव बाढ़ की चपेट में, राहत सामग्री पहुंचाने में जुटा प्रशासन

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में नदिया अपने उफान पर हैं। जिले में 78 गांव बाढ़ से गिरे हुए हैं। कई गांव तो मेरुण्ड भी हो चुके हैं। प्रशासन ने बाढ़ से घिरे हुए गांव और मेहरून हो चुके गांव के लोगों को राशन किट और त्रिपाल वितरण का काम शुरू कर दिया है। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहर के कई क्षेत्र भी पानी से घिर गए हैं। इससे अभी तक 3450 हेक्टेयर क्षेत्र प्रभावित हो चुका है।

वहीं, अगर आबादी की बात की जाए तो 30365 आबादी इस बाढ़ से प्रभावित है। गोरखपुर राप्ती, रोहिन और सरयू नदी से घिरा हुआ है। अगर राप्ती नदी की बात करें तो यह खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। रोहिणी नदी खतरे के निशान से अभी नीचे है, लेकिन वहीं घाघरा नदी की बात की जाए तो कहीं-कहीं पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ प्रभावित गांव में राशन किट और त्रिपाल उपलब्ध कराने का काम गोरखपुर आपदा विभाग कर रहा है। पीड़ित ग्रामीणों के पेयजल की व्यवस्था भी प्रशासन द्वारा की जा रही है।

गोरखपुर शहर के दक्षिणांचल क्षेत्र बाढ़ से ज्यादा प्रभावित

गोरखपुर की दक्षिणांचल क्षेत्र की बात की जाए तो राप्ती नदी ने यहां के कई गांव को अपनी आगोश में ले लिया है। दक्षिणांचल के कई गांव मेहरून भी हो चुके हैं, उनका आवागमन मुख्य मार्ग से बंद हो गया है। ग्रामीणों को नाव के सहारे ही बाहर आना पड़ रहा है, जिनके लिए प्रशासन ने नाव की व्यवस्था की हुई है। प्रशासन बाढ़ प्रभावित गांव के लोगों के लिए राशन किट उपलब्ध करा रहा है। इसके अलावा उन्हें त्रिपाल भी दिए जा रहे हैं, जिससे बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोग केरोसिन और शुद्ध पेयजल रख सकें। उन्हें इस राशन किट में 17 तरह की सामग्री दी जा रही है।

राप्ती, घाघरा और गुर्रा का कहर

जिले में राप्ती, घाघरा, रोहित के साथ-साथ गुर्रा और आमी नदी भी अपना कहर बरपा रही हैं। इन नदियों ने कई गांव को अपने आगोश में ले लिया है। इस बार नदियों के कहर से ग्रामीणों को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। अगर गोरखपुर शहर से सटे क्षेत्र की बात की जाए तो गोरखपुर से सटे ट्रांसपोर्ट नगर, बहरामपुर, महेवा मंडी के उफनाई राप्ती ने कई घरों को अपनी आगोश का शिकार बना लिया है।

गोरखपुर के ये गांव बाढ़ से प्रभावित

गोरखपुर में बाढ़ से 78 गांव घिरे और मैरुंड हो गए हैं। इसमें सदर के 17, गोला में 10, कैंपियरगंज में 12, खजनी में 2, सहजनवा में 7, बांसगांव में 2 और चौरीचौरा में एक गांव बाढ़ से घिरे हुए हैं। राप्‍ती और रोहिन नदी में आई बाढ़ से घिरे गांव में छोटी-बड़ी कुल 87 नावों को राहत के लिए लगाया गया है। इसमें सबसे ज्‍यादा सदर में 58, गोला में 11, सहजनवा में 9, कैंपियरगंज में 4, बांसगांव में 3, खजनी में एक और चौरीचौरा में एक नाव लगाई गई है। साथ ही पांच मेडिकल टीमों को भी तैनात किया गया है। प्रशासन की ओर से 805 राशन किट मुहैया कराई गई हैं।

Related posts

जहरखुरानों से सावधान, ऊंचाहार में हुआ ये बड़ा कांड

Nitin Gupta

YouTube पर वीडियो देख बनाया रंगदारी का प्लान, पुलिस ने शातिर को ऐसे दबोचा

Shailendra Singh

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ने में बॉलीवुड सितारें दे रहे पूरा सहयोग, इस जंग में शाहरूख खान आगे आए

Shubham Gupta