January 26, 2022 1:00 pm
featured दुनिया

इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर 7 तीव्रता वाले भूकंप ने मचाई तबाही, अब तक 82 लोगों की मौत

इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर 7 तीव्रता वाले भूकंप ने मचाई तबाही, अब तक 82 लोगों की मौत

नई दिल्ली: इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप में रविवार को भूकंप का एक बड़ा झटका महसूस किया गया। यूएसजीएस के मुताबिक इस भूकंप की तीव्रता सात थी और इसका केंद्र लोमबोक के उत्तरी क्षेत्र में जमीन से केवल 10 किलोमीटर नीचे था। इस भूकंप में अब तक 82 लोगों की मौत की खबर सामने आई है। वहीं कई अन्य लोग घायल बताए जा रहे हैं, कई इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। भूकंप से पर्यटकों और स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई है।

 

indonesia 1 इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर 7 तीव्रता वाले भूकंप ने मचाई तबाही, अब तक 82 लोगों की मौत

 

ये भी पढें:

पीवी सिंधु ने इंडोनेशिया ओपन के दूसरे दौर में अपनी जगह पक्की की
भूकंप के झटकों से हिला ईरान ,290 लोग हुए घायल
 न्‍यूज़ीलैंड में महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके,कोई हाताहात नही

करीब सप्ताह भर पहले लोमबोक द्वीप पर आये भूकंप में 12 से अधिक व्यक्तियों की मौत हो गई थी। माताराम तलाशी और बचाव एजेंसी के एक अधिकारी अगुंग प्रामुजा ने एएफपी को बताया कि मृतकों की संख्या बढ़कर 82 हो गई है जो शुरूआत में 37 बताई जा रही थी।

 

वहीं भूकंप के बाद जारी की गई सुनामी की चेतावनी को रद्द कर दिया गया है। पहले भूकंप में एक संक्षिप्त सुनामी चेतावनी जारी की गई थी। इससे बाली के देनपासार में भी इमारतों को क्षति पहुंची है। इन इमारतों में एक डिपार्टमेंटल स्टोर और हवाई अड्डे टर्मिनल की इमारत शामिल है।

 

मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी के अधिकारी डी कर्नावती के मुताबिक सुनामी की चेतावनी तब वापस ले ली गई जब सुनामी की लहरें तीन गांवों में मात्र 15 सेंटीमीटर ऊंची दर्ज की गई थी। वहीं इंडोनेशिया आपदा शमन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने बताया कि शहर में क्षतिग्रस्त हुई ज्यादातर इमारतों में घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किया गया था। सुरक्षा सम्मेलन के लिए लोमबोक में मौजूद सिंगापुर के गृह मंत्री के शनमुगम ने फेसबुक पर बताया कि कैसे उनके होटल की दसवीं मंजिल का कमरा हिल रहा था।

 

ये भी पढें:

उत्तराखंड में बारिश ने मचाई तबाही,चमोली में फटा बादल, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

उत्तराखंड : कौशल विकास के लिए रखा गया 13 सौ करोड़ रुपए का बजट,10 लाख लोगों को मिलेगा प्रशिक्षण

 

By: Ritu Raj

 

Related posts

पर्यावरण संरक्षण की मिसाल बने चार बुजुर्ग, जानें कैसे बचाई आम के पेड़ की जान

pratiyush chaubey

G20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने जापान पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, हुआ भव्य स्वागत

bharatkhabar

विदेशी दौरे के आखरी चरण में फ्रांस पहुंचे पीएम मोदी, करेंगे अहम मुद्दों पर चर्चा

Rani Naqvi