September 21, 2021 2:23 pm
featured यूपी राज्य

हरदोई के तीन क्वारंटीन सेंटरों से भागे  47 लोग, सभी की पुलिस कर रही तलाश

हरदोई हरदोई के तीन क्वारंटीन सेंटरों से भागे  47 लोग, सभी की पुलिस कर रही तलाश

हरदोई। क्वारंटीन सेंटरों में रोके गए लोग भाग रहे हैं। शुक्रवार और शनिवार को जिले के तीन क्वारंटीन सेंटर से 47 लोग भाग गए। सांडी प्रतिनिधि के अनुसार सांडी थाना क्षेत्र के ग्राम जटपुरा में दिल्ली, नोएडा और गुजरात में कार्य कर रहे 26 लोग लॉकडाउन के बाद लौटे थे। इन सभी को एपीएस महाविद्यालय नेकपुर हातिम में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था। कानूनगो रमाकांत शुक्ला और लेखपाल ब्रजेश मिश्रा इन लोगों की निगरानी में लगाए गए थे। शनिवार सुबह लगभग साढ़े सात बजे यहां से सभी 26 लोग भाग गए। कानूनगो रमाकांत शुक्ला और लेखपाल ब्रजेश मिश्रा ने इसकी पुष्टि कर बताया कि सभी 26 लोगों के नाम और मोबाइल नंबर की सूची पुलिस को उपलब्ध कराते हुए एफआईआर दर्ज करने के लिए तहरीर दी है।

उधर दूसरी ओर सवायजपुर कस्बे के शकुंतला देवी इंटर कालेज में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर से शुक्रवार रात छह लोग दीवार कूदकर भाग गए। एसडीएम मनोज कुमार सागर के निर्देश पर राजस्व निरीक्षक जितेंद्र नाथ गुप्ता ने बताया कि छह लोगों के विरुद्ध तहरीर लोनार कोतवाली में दी गई है। इससे पहले भी यहां से 11 लोग दीवार फांदकर भाग गए थे। लोनार कोतवाल राजेश राय ने बताया कि शकुंतला देवी इंटर कालेज में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर से दो अलग-अलग तारीखों में कुल 17 के भाग जाने की रिपोर्ट दर्ज की जा रही है।

गोपामऊ प्रतिनिधि के अनुसार हरियावां विकास खंड के ग्राम हरसिंगपुर में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में रखे गए 15 लोग शुक्रवार देर शाम भाग गए। ग्राम सचिव प्रशांत मिश्रा ने इसकी पुष्टि कर बताया कि अलग-अलग जनपदों से 15 लोग गांव में आए थे, इन सभी को प्राथमिक विद्यालय में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था। शुक्रवार शाम ये सभी भाग निकले। उन्होंने बताया कि विभागीय उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दे दी है।

शौच को जाने की बात कह लौट आए!

देहात कोतवाली क्षेत्र के ग्राम इटौली में परिषदीय विद्यालय को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। यहां 32 लोगों में से तीन महिलाओं सहित पांच लोगों के चले जाने की सूचना सोशल मीडिया के जरिये पुलिस को मिली तो पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस टीम विद्यालय परिसर में ही थी तभी थोड़ी ही देर के अंतर पर सभी पांच लोग वापस आ गए।

इन महिलाओं से जब जाने का कारण पूछा गया तो कुछ ने कहा कि यहां शौच की व्यवस्था नहीं थी इसलिए चले गए थे तो कुछ ने कहा कि खाने-पीने का इंतजाम नहीं था, इसलिए घर गए थे। पूरे मामले की रिपोर्ट देहात कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक ने आला अधिकारियों को भेज दी है।

Related posts

किसानों की आय को बढ़ाकर करेंगे दोगुना- वित्त मंत्री, बीमारियों पर रोकथाम सरकार का सबसे बड़ा लक्ष्य

Aman Sharma

उप्रःगुलाबी गैंग,कमांडर की फिल्म ‘जाको राखे साईंया’ करेगी पुलिस की गुडागर्दी का पर्दाफाश

mahesh yadav

नटवरलाल पहुंचा जेल की सलाखों के भीतर

piyush shukla