आवास

लखनऊ। योगी सरकार शहरों में रह रहे 39 हजार से अधिक गरीबों को छत देने जा रही है। आवास विभाग ने सूडा ने 39903 पात्रों के नाम मांगे हैं।

प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के निर्माण की चर्चा हुई। अफसरों ने कि निर्माणाधीन मकान जून तक पूरे हो जाएंगे। इनका काम तेजी से चल रहा है।

मार्च तक 4266 और जून तक 11796 मकान बनकार तैयार हो जाएंगे। बाकी मकान अगले चरण में बनकर तैयार होंगे। तैयार होने वाले मकानों को पात्रता के आधार पर तुरंत आवंटित किया जाएगा। इसके लिए पात्रता सूची तैयार की जा रही है।

आवास विभाग ने सूडा के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्रों की सूची जल्द तैयार की जाए, जिससे मकानों का आवंटन पात्रों को किया जा सके। सूची तैयार करने में पूरी सतर्कता बरतनेद को कहा गया है।

सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी में पात्रों को दो कमरे का मकान 6.50 लाख रुपये में देगी। इसमें ढाई लाख रुपये अनुदान के रूप में दिया जाएगा, यानी पात्रों को सिर्फ साढ़े चार लाख रुपये देना होगा। इन मकानों के लिए पात्रता तय की गई है और इसके दायरे में आने वालों को ही यह मकान मिलेगा। सभी शहरों में पात्रों की सूची तैयार हो रही है।

आवास विभाग ने इसके आधार पर ही पात्रता सूची सूडा से उपलब्ध कराने को कहा है। राज्य सरकार का लक्ष्य 2022 तक सभी के सिर पर छत उपलब्ध कराने का है। इसके आधार पर विकास प्राधिकरणों और आवास विकास परिषद को मकान बनाने का लक्ष्य दिया गया है।

UP: एक मार्च से खुलेंगे प्राइमरी स्‍कूल, अभिभावक पढ़ लें ये कोरोना नियम

Previous article

अल्मोड़ा के द्वाराहाट को बड़ी सौगात,सीएम त्रिवेंद सिंह रावत ने घस्यारी योजना की घोषणा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.