featured जम्मू - कश्मीर देश

एलओसी पार लॉन्च पैड्स पर 300 आतंकवादी घुसपैठ करने के लिए तैयार: सेना

terist 2 एलओसी पार लॉन्च पैड्स पर 300 आतंकवादी घुसपैठ करने के लिए तैयार: सेना

नियंत्रण रेखा के पार लॉन्च पैड्स पूरी तरह से से आतंकवादियों के कब्जे में हैं और हमारे एक अनुमान के मुताबिक कुछ 250 से 300 आतंकवादी घुसपैठ के लिए तैयार हैं। यह कहना है बारामुला स्थित सेना के 19 पैदल सेना डिवीजन के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी) मेजर जनरल वीरेंद्र वत्स का।

जम्मू- कश्मीर से रवि कुमार की रिपोर्ट 

terrist 1 1 एलओसी पार लॉन्च पैड्स पर 300 आतंकवादी घुसपैठ करने के लिए तैयार: सेना

मेजर जनरल वीरेंद्र वत्स ने आज बारामूला में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि जब से भारत सरकार ने जम्मू कश्मीर में 5 अगस्त 2019 के फैसले की घोषणा की है तब से लगातार पाकिस्तान अधिक से अधिक आतंकवादियों को घाटी में धकेलने की कोशिश कर रहा है। ऐसे तमाम आतंकवादियों को उकसाने का प्रयास किया गया है जो वे लंबे समय से घुसपैठ करने में विफल रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा कि कुपवाड़ा जिले के नौगाम सेक्टर में शनिवार को आतंकवादियों द्वारा एक बड़ी घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया गया जिसमें दो आतंकवादी मारे गए जिनके कब्जे से भारतीय और पाकिस्तानी मुद्रा के 1.5 लाख रुपये के अलावा हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया।

नौगाम सेक्टर में आज सुबह के ऑपरेशन के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि नौगाम सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास दो भारी हथियारबंद आतंकवादी मारे गए. ये आतंकवादी एंटी इंफिल्ट्रेशन फेंसिंग को काटकाट क्षेत्र में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे जिन्होंने कॉम्बैट यूनिफार्म पहन रखा था।

सेना द्वारा समय पर की गई कार्रवाई में दो भारी सशस्त्र आतंकवादियों को मार गिराया गया और उनके कब्जे से भोजन और दवाओं के अलावा हमने लगभग 1.5 लाख भारतीय और पाकिस्तानी मुद्रा बरामद की है और इस क्षेत्र में अभी भी तलाशी अभियान जारी है।

नौगाम में किया गया घुसपैठ का यह प्रयास हाल के दिनों में राजौरी और कुपवाड़ा सेक्टरों में किए गए प्रयासों की ही तरह है और नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में पुष्टि करता है जो पाकिस्तानी सेना द्वारा समर्थित हैं।

उन्होंने कहा, नियंत्रण रेखा की पवित्रता बनाए रखने के लिए भारतीय सेना पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।आने वाले तीन से चार महीनों में घुसपैठ बढ़ सकती है मगर सेना ऐसी सभी प्रयासों को विफल करने के लिए सतर्क है।

https://www.bharatkhabar.com/big-operation-against-khonsa-area-of-%e2%80%8b%e2%80%8barunachal-pradesh/

मेजर जनरल वीरेंद्र वत्स ने उत्तरी कश्मीर में संभावित आतंकवादी हमले के बारे बोलते हुए कहा कि सेना को ऐसे कुछ इनपुट मिले हैं और सेना को आतंकवादियों की ऐसी किसी भी कोशिश को विफल करने के लिए अलर्ट जारी किया हुआ है।

Related posts

राम रहीम दोषी करार, कोर्ट के बाहर समर्थकों का हंगामा, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

Pradeep sharma

प्रद्युम्न हत्याकांड: सुप्रीम कोर्ट ने पिंटो परिवार की अग्रिम जमानत रखी जारी

Breaking News

MP: पीएम मोदी के आर्मी ड्रेस पहनने पर राजनीति, दिग्विजय सिंह ने हिटलर से की पीएम मोदी की तुलना

Saurabh