featured भारत खबर विशेष राजस्थान

सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव

sunaar jewellers सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
जयपुर। जयपुर के वैशाली नगर में मौजूद सुनार ज्वैलर्स ने अपने शानदार 3 साल पूरे कर लिए हैं। सिल्वर के उत्पादों का ये शोरूम अपनी हाथ की कारीगरी के लिए मशहूर है। पिंक सिटी में जाना पहचाना नाम है सुनार ज्वैलर्स।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.20.56 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
कहने को सुनार ज्वैलर्स को 3 साल पूरे हुए हैं। लेकिन हाथ की कारीगरी का ये काम इनकी रगों में बसता है।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.36.36 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
मालिकों का कहना है कि 80 के दशक से ये काम इनके बुजुर्गों द्वारा किया जा रहा है। यही वजह है कि हर एक आर्टिकल में आप कारीगरी का जीवंत रूप देख सकते हैं।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.20.54 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
आम जनता से जुड़ी हर चीज सुनार ज्वैलर्स के कारीगरों द्वारा तराशी जाती है। फिर वो चाहे भगवान की मूर्ति हो या फिर किचन का ये सामान। हर आर्टिकल में कमाल की कारीगरी साफ झलकती है।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.20.57 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
सुनार ज्वैलर्स के मालिक राजकुमार जी से जब भारत खबर से बातचीत में उन्होंने बताया कि इस शोरूम में मैन्यूफैक्चरिंग से लेकर ब्रांडिंग तक का काम होता है। उन्होंने बताया की कस्टमर के लिए क्वालिटी का विशेष ध्यान दिया जाता है। यूनिक आर्टिकल्स भी ऑन डिमांड बनाए जाते हैं।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.24.01 1 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
बातचीत में हमें पता चला कि सुनार ज्वैलर्स सिर्फ जयपुर तक ही सीमित नहीं है बल्कि देश के अन्य राज्यों में भी इसकी पहुंच है। दूर-दूर से ग्राहक सुनार ज्वैलर्स के काम को पसंद कर यहां आते हैं।  सूरत, असम, गुवाहाटी, सिलीगुड़ी और गुजरात तक यहां से बना हुआ माल जाता है।
WhatsApp Image 2021 04 01 at 14.24.01 सुुनार ज्वैलर्स के शानदार 3 साल, भारत खबर पर साझा किया अनुभव
शानदार 3 साल पूरे करने पर सुनार ज्वैलर्स की टीम बहुत खुश है। हम भी सुनार ज्वैलर्स को अपनी टीम की ओर से शुभकामनाएं देते हैं।

Related posts

ममता बनर्जी जन्मजात विद्रोही हैं: प्रणब मुखर्जी

Rani Naqvi

उत्तराखंडः कुटुंब पेंशन के लिए लड़ रहा स्वतंत्रता सेनानी का बेटा

mahesh yadav

तीसरा टेस्ट: विराट–रहाणे ने संभाली पारी, भारतीय टीम का स्कोर 200 के करीब

mahesh yadav