असम असम में भूस्खलन होने से 20 लोगों की मौत, कई लोगों के घायल होने की खबर

एक तरफ कोरोना की मार और दूसरी तरफ असम में दर्दनाक हादसा हुआ है। असम में लगातार बारिश हो रही है।

गुवाहाटी। एक तरफ कोरोना की मार और दूसरी तरफ असम में दर्दनाक हादसा हुआ है। असम में लगातार बारिश हो रही है। जिसके कारण असम में भूस्खलन होने से 20 लोगों की मौत हो गई है। कोरोना संकट से अभी लोग बाहर आए नहीं थे कि प्राकृति की एक और आपदा ने उनको घेर लिया है। असम में मरने वालों में महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग सभी शामिल हैं। ये हादसा दक्षिण असम के तीन जिलों कछार, हैलाकांडी और करीमगंज में हुआ है। इतना ही नहीं इस हादसे में कुछ लोग घायल भी हुए हैं घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

असम.jpg2 असम में भूस्खलन होने से 20 लोगों की मौत, कई लोगों के घायल होने की खबर

बता दें कि इस प्राकृति आपदा ने लोगों को ऐसे वक्त में झंझोरा जब वो अपने घरों में चैन की नींद सो रहे थे। इस घटना में पूरे-पूरे परिवार बर्बाद हो गएं हैं। लोग ऐसे घिर गए कि भूस्खलन होने के बाद लोग भाग भी नहीं पाए और वहीं फंसे रह गए। मौके पर ही पूरा-पूरा परिवार खत्म हो गया। मंजर ऐसा था कि कई लोग जिंदा दफन हो गए। करीमगंज से लेकर कालीगंज तक ऐसा भूस्खलन हुआ कि लोगों को सम्भलने तक का वक्त नहीं मिला। कुछ लोग तो पहाड़ी गिरने से उसके मलबे के निचे दब गए। जिसमें 6 लोगों की मौत हो गई। जिनमें से 5 लोग एक ही परिवार से थे।

https://www.bharatkhabar.com/meerut-police-got-success-in-1-year-old-case/

एक के बाद एक घटना होती रही तीसरी घटना हैलाकांडी में हुई जहां बच्चों के शव निकाले गए। यहां 7 लोगों की मौत हुई। इसमें भी 6 लोग एक ही परिवार के थे। दिल को दहला देने वाला वाक्या तो ये है कि इसमें 4 बच्चे थे। जब बच्चों की लाशों को मलबे से बाहर निकाला गया तो देखने वालों के दिल दहल गए और लोग सन्न रह गए।

 

लगातार हो रही भारी बारिश

साथ ही बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिम में तेज हवाएं चलने के कारण असम में लगातार बारिश हो रही है। ज्यादातर स्थानों पर भारी बारिश का कहर है। जिसके कारण लोगों को समझ नहीं आ रहा कि वो क्या करें और कहा जाएं बता दें कि पूर्वोत्तर भारत में अधिकतम बारिश मई में और उसके बाद जून में होती है।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    लॉकडाउन के बीच शहर की सडकों पर लगा जाम

    Previous article

    मंगल ग्रह पर मौजूद नमकीन गड्डों का क्या है रहस्य?

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured