योगी सरकार का एक्‍शन, बस्‍ती के SP का ट्रांसफर और दो सस्‍पेंड, जानिए पूरा मामला  

गोरखपुर: योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में अक्सर जनता दरबार लगाते हैं। इसमें लोगों की समस्याओं का तुरंत निस्तारण करने कोशिश की जाती है। अपने दो दिनों के दौरे पर गोरखपुर गए सीएम योगी ने रविवार को जनता दरबार लगाया।

मिलने आए बुजुर्ग महंत

सीएम खुद भी गोरखनाथ मंदिर के महंत हैं, ऐसे में साधु-संतों से उनका लगाव पहले से ही रहा है। अब मुख्यमंत्री बनने के बाद भी उनका जुड़ाव कम नहीं हुआ है। ऐसा ही नजारा रविवार को जनता दरबार के दौरान देखने को मिला।

रामजानकी कुसम्ही से मिलने आए महंत पर जैसे ही योगी की नजर पड़ी, वह तुरंत उनसे मिलने आ गए। 109 वर्ष के महंत ओमकारनाथ से सीएम काफी देर तक बातचीत करते रहे। ओमकारनाथ जी दिव्यांग होने के कारण व्हीलचेयर पर थे, इसीलिए योगी खुद उनसे मिलने पहुंच गए।

जनता दरबार में सीएम से मदद लेने आए 109 वर्षीय महंत, बुजुर्ग से खुद मिलने गए योगी

सीएम योगी

मदद के साथ किया आदर-सत्कार

योगी आदित्यनाथ ने महंत से मुलाकात करने के साथ-साथ उनकी समस्या भी सुनी। यज्ञ करवाने के लिए उन्हें मदद की आवश्यकता थी, जिसे सीएम के निर्देश पर तुरंत किया गया। इसके साथ ही उन्होंने महंत जी को पूरे आदर और सम्मान के साथ विदा किया।

तुरंत समस्याओं का हो निस्तारण

जनता की समस्या सुनने के बाद योगी ने अधिकारियों को तुरंत एक्शन लेने के निर्देश दिए। इसके साथ ही पीड़ितों की सुनवाई में किसी तरह की लापरवाही से बचने की बात कही। सांसद रहने के दौरान भी योगी गोरखपुर में जनता दरबार लगाया करते थे। अब सीएम बनने के बाद भी लखनऊ आवास पर आम जनता की फरियाद सुनी जाती है।

कोरोना से बचने की अपील

योगी ने इस दौरान लोगों से कोरोना वायरस की गंभीरता को समझने की बात कही। उन्होंने कहा कि मास्क और उचित दूरी का पालन जरूर करें। साथ ही अपनी बारी आने पर टीका जरूर लगावायें, अभी कोरोना का खतरा खत्म नहीं हुआ है।

छात्रों के भविष्य से हो रहा खिलवाड़, शिक्षा के मंदिर में लहलहा रही गांजे की फसल

Previous article

चित्रकूट में जहरीली शराब ने ली दो लोगों की जान, चार की हालत गंभीर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured