बिहार के मंदिर में कराई जा रही थी नाबालिग जोड़े की शादी, देवरिया पुलिस ने रुकवाया बाल विवाह

देवरियाः रविवार को बिहार के एक मंदिर में एक नाबालिग जोड़े की शादी कराई जा रही थी। सूचना मिलने पर पहुंची देवरिया पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दूल्हा-दुल्हन समेत घरातियों-बारातियों को हिरासत में ले लिया और शादी रुकवा दी।

जानकारी मिलने पर महिला कल्याण, बाल संरक्षण और एचटीयू टीम ने करू 10 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद बिहार के मैरवां स्थित चंदनियां माता मंदिर से बालक और बालिका को बरामद किया।

बता दें कि लार थाना क्षेत्र के गांव की रहने वाली दस वर्षीय बालिका और बिहार के सिवान जिले के गुठनी थाना क्षेत्र के एक गांव के 10 साल के बालक की शादी मैरवां के चंदनिया माता मंदिर में कराई जा रही थी। मामले की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शादी रुकवा दी। एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने मामले की गंभीरता को लेते हुए महिला कल्याण, बाल संरक्षण, एचटीयू टीम और लार थाने को फौरन मामले में संज्ञान लेने का निर्देश दिया।

चंदनियां माता में जब परिजनों ने पुलिस के आने की सूचना पाई तो दूल्ह-दुल्हन समेत वे लोग मंदिर से फरार हो गए और पास के ही एक गांव में जाकर छिप गए। कड़ी मशक्कत के बद टीम ने दूल्हा-दुल्हन समेत शादी में शामिल होने पहुंचे लगभग एक दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया। नाबालिग जोड़े की काउंसिलिंग के लिए बाल मनोवैज्ञानिक मीनू जायसवाल के पास भेज दिया गय़ा है।

Lucknow: आज व्यायाम प्रशिक्षकों को सीएम देंगे नियुक्ति पत्र

Previous article

‘चुनाव नज़दीक आ रहा, मायावती को ब्राह्मण याद आ रहा’

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured