पैसे वालों की संख्या का आकड़ा लगातार बढ़ रहा, जल्द होंगे एक लाख करोड़पति

पैसे वालों की संख्या का आकड़ा लगातार बढ़ रहा, जल्द होंगे एक लाख करोड़पति

नई दिल्ली। जीएसटी और फिर ऑनलाइन प्रणाली के बाद 98,827 लोगों ने आयकर रिटर्न में अपनी आय एक करोड़ रुपये से अधिक दिखाई है। वर्तमान वित्त वर्ष में फरवरी तक 98,827 लोगों ने अपनी आय एक करोड़ रुपये से अधिक दिखाते हुए आयकर रिटर्न दाखिल किया है। आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2018-19 में फरवरी तक कुल 6.39 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिल हुए हैं जिसमें से 1.72 करोड़ रिटर्न ऐसे हैं, जिसमें सालाना आय एक करोड़ रुपये अधिक दिखाई गई है।

खास बात यह है कि पिछले वित्त वर्ष में फरवरी तक कुल 74,460 व्यक्तिगत करदाताओं ने अपनी वार्षिक आय एक करोड़ रुपये से अधिक दिखाते हुए आयकर रिटर्न दाखिल किया था। इस तरह महज एक साल में ही करोड़पति करदाताओं की संख्या में लगभग 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। अगर यही ट्रेंड जारी रहा तो वित्त वर्ष के पूरा होने तक करोड़पति करदाताओं की संख्या एक लाख का आंकड़ा छू जाएगी।