featured बिज़नेस

भारत का महंगाई लक्ष्य साख सकारात्मक : मूडीज

Moodys भारत का महंगाई लक्ष्य साख सकारात्मक : मूडीज

नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस ने रविवार को कहा कि भारत सरकार द्वारा निर्धारित चार प्रतिशत महंगाई दर एक ‘साख सकारात्मक’ कदम है, और इससे व्यापक आर्थिक स्थिरता में मदद मिलेगी। मूडीज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (संप्रभु जोखिम समूह) मैरी डिरॉन ने एक बयान में कहा, “वर्ष 2021 तक के लिए भारत सरकार की चार प्रतिशत महंगाई लक्ष्य (दो प्रतिशत कम-ज्यादा) की अधिसूचना महंगाई को मध्यम स्तर पर बनाए रखने की एक साख सकारात्मक प्रतिबद्धता है।”

Moodys

डिरॉन ने कहा, “सतत मध्यम स्तर की महंगाई व्यापक आर्थिक स्थिरता में योगदान करेगी और अतीत के अल्प चिन्हित चक्रों के दोहराव को रोकने में मददगार होगा।”

डिरॉन ने कहा, “एक स्पष्ट महंगाई लक्ष्य महंगाई की अपेक्षाओं को साधने में और वास्तविक महंगाई को मध्यम स्तर पर बनाए रखने में मदद कर सकता है। ऐसे समय में जब सार्वजनिक क्षेत्र में भारी वेतन वृद्धि को लागू किया गया है, मध्यम स्तर के महंगाई लक्ष्य वेतन पर और अन्य क्षेत्रों में कीमतों पर इसके प्रभाव को रोक सकते हैं।”

केंद्र सरकार ने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के साथ राय-मशविरा कर शुक्रवार को 31 मार्च, 2021 तक का महंगाई लक्ष्य अधिसूचित किया था। सरकार ने कहा है कि यदि लगातार तीन तिमाहियों तक औसत महंगाई दर छह प्रतिशत की ऊपरी सीमा से अधिक या दो प्रतिशत की निचली सीमा से कम होती है, तो महंगाई लक्ष्य को विफल माना जाएगा।

वित्त विधेयक 2016 के अनुसार, यदि आरबीआई महंगाई लक्ष्य हासिल करने में विफल साबित होता है तो उसे विफलता के कारण केंद्र सरकार को एक रपट में बताने होंगे, साथ ही इसके संभावित उपचारात्मक उपाय भी सुझाने होंगे। इसके अलावा एक अनुमानित अवधि भी बतानी होगी, जिस दौरान महंगाई लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है।

डिरॉन ने कहा कि पिछले दो वर्षो के दौरान मौद्रिक नीति व्यवस्था में हुए बदलाव व्यापक नीतिगत पारदर्शिता और पूर्वानुमेयता की दिशा में एक कदम है, और ये दोनों नीतिगत बदलाव और मौद्रिक नीति की प्रभावकता में मदद करेंगे।

Related posts

महिला ने एयरटेल को हराया केस, भूगतान में वापस लिए 44.50 रूपये

Rani Naqvi

सड़कों पर अभ्यर्थी, रोते-बिलखते मांग रहे न्याय

Shailendra Singh

ENGvsSL: आखिरी वनडे मैच में श्रीलंका के हांथों इंग्लैंड की बुरी हार, 219 रनों से हारा इंग्लैंड

mahesh yadav