cm arvind गुजरात में गरजे दिल्ली के सीएम केजरीवाल, बताया कि क्यों बीजेपी पिछले 25 साल से राज्य में कर रही है राज

गुजरात – गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव में आम आदमी पार्टी की धमाकेदार एंट्री के बाद शुक्रवार को सूरत पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वहां पर नए पार्षदों से मुलाकात की। साथ ही उन्होंने अपनी पार्टी के पार्षदों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं दिल से गुजरात के लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। क्योकि सूरत के लोगों ने 125 साल पुरानी कांग्रेस को खारिज करते हुए आम आदमी पार्टी को मुख्य विपक्षी दल की जिम्मेदारी दी है।

सीएम केजरीवाल ने बीजेपी पर साधा निशाना –
‘आप’ के पार्षदों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वह पिछले कुछ दिनों से बीजेपी और कांग्रेस के बयानों को स्थानीय निकाय के चुनाव परिणामों के बारे में सुनते आ रहे है। इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि दोनों ही पार्टियां डरी हुई और बेचैन है। हमें इस बात को समझना पड़ेगा कि वे आप लोगों से या फिर आम आदमी पार्टी से नहीं डरे है। ये उन लोगों से डरे है जिन्होंने आप के लिए वोट किया है। बताया जा रहा है कि केजरीवाल ने कहा- क्यों बीजेपी पिछले 25 साल से राज्य में राज कर रही है? ऐसा नही है कि वह बहुत अच्छा कर रही है। कई सारे मुद्दे होने के साथ साथ केजरीवाल ने कहा- ऐसा इसलिए है क्योंकि उन्होंने अन्य पार्टियों को अपने नियंत्रण मे ले रखा है। पहली बार कोई आया है जो उनसे आंख मिला पा रहा है।

स्थानीय निकाय चनाओ में ‘आप’ का बेहतरीन प्रदर्शन –
गौरतलब है कि हाल के हुए गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव में दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी का बेहतरीन प्रदर्शन रहा। सूरत में ‘आप’ ने नगर निकाय के चुनाव में 27 सीटें जीती है। बता दे कि ‘आप’ ने गुजरात की छह नगर निगमों के लिए हुए चुनाव में 470 उम्मीदवार उतारे थे और उसे सूरत में 27 सीटो पर जीत मिली है। जीत पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘आप’ ने नगर निकाय चुनाव में 27 सीट हासिल कर सूरत में बीजेपी के किले में सेंध लगा दी। मैं दिल से गुजरात के लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहता हू। सूरत के लोगों ने 125 साल पुरानी कांग्रेस को खारिज करते हुए आम आदमी पार्टी को मुख्य विपक्षी दल की जिम्मेदारी दी है।

विकास योजनाओं को परखने के लिए तीन दिवसीय दौरे पर ऊर्जा मंत्री

Previous article

माघी पूर्णिमा के लिए ट्रैफिक सिस्टम तैयार, भक्तों को नहीं होगी दिक्कत

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.