अमेरिका ने कहा : सीमा से सटी घटनाओं पर बोलना नहीं चाहते

वाशिंगटन।अमेरिका ने भारतीय सेना द्वारा पिछले सप्ताह जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार आतंकवादी ठिकानों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ करने पर टिप्पणी से इनकार करते हुए शांति और संयम बनाए रखने का आह्वान किया है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रेस कार्यालय की निदेशक एलिजाबेथ ट्रूडी ने सोमवार को कहा, हम सीमा से सटी घटनाओं पर कुछ बोलना नहीं चाहते।

us-said-border-would-not-speak-to-the-adjoining-events

उन्होंने कहा, हम दोनों पक्षों से शांति बनाए रखने का आग्रह करते हैं। हमारा विश्वास है कि लगातार संपर्क साधने से तनाव कम हो सकता है। गौरतलब है कि भारतीय सेना ने 26 सितंबर की रात और 27 सितंबर तड़के एलओसी के पार आतंकवादी ठिकानों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ किया था जिसमें कई आतंकवादी ढेर हुए थे और भारत ने आतंकवादियों को भारत में घुसाने के लिए बनाए गए लांच पैड को ध्वस्त कर दिया था।

यह ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ 18 सितंबर को जम्मू एवं कश्मीर के उड़ी में सैन्य शिविर पर आतंकवादी हमले के मद्देनजर की गई थी जिसमें 19 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। ट्रूडी ने हालांकि कहा, संघर्ष या तनाव किसी निश्चित क्षेत्र में नहीं होते हैं। हम इस तनाव को कम करने के पक्ष में हैं। हमारे पाकिस्तान और भारत दोनों से ही मजबूत संबंध हैं। ट्रूडी ने कश्मीर पर अमेरिकी रुख में बदलाव नहीं होने की याद दिलाते हुए कहा, मैं आपको यह याद दिला दूं कि हम भारत और पाकिस्तान दोनों से ही क्षेत्र में तनाव कम करने के महत्व पर वार्ता कर रहे हैं।