चुनाव नतीजों पर ट्रंप के बयान को ओबामा ने बताया खतरनाक

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप का यह बयान खतरनाक है कि वह चुनाव नतीजों को नहीं भी स्वीकार कर सकते हैं।  रिपोर्ट के मुताबिक, मियामी में हिलेरी के समर्थन में एक रैली में ओबामा ने कहा कि ट्रंप का बयान अमेरिकी लोकतंत्र को कमजोर बना रहा है।ट्रंप ने राष्ट्रपति बहस के दौरान आठ नवंबर को होने वाले चुनाव के नतीजों को नहीं मानने का संकेत दिया था। उन्होंने बाद में कहा कि वह स्पष्ट नतीजों को ही स्वीकार करेंगे लेकिन चुनौती का विकल्प खुला रखा।

obama-trump

ट्रंप ने गुरुवार को ओहियो में अपने चिरपरिचित विवादास्पद अंदाज में कहा, मैं अपने सभी मतदाताओं, समर्थकों और अमेरिका के सभी नागरिकों से वादा करना चाहूंगा कि मैं इस ऐतिहासिक राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को पूरी तरह से स्वीकार करूंगा अगर मैं जीता तो। उन्होंने कहा कि वह स्पष्ट नतीजों को ही स्वीकार करेंगे। अगर नतीजे सवाल खड़े करने वाले रहे तो ऐसे में उनके पास इसे कानूनी चुनौती देने का अधिकार है। ट्रंप के इस बयान के कुछ घंटों बाद ओबामा ने कहा कि अमेरिकी चुनाव की वैधता के बारे में लोगों के दिमाग में संदेह के बीज बोने से देश के दुश्मनों को बढ़ावा मिलेगा।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, ओबामा ने कहा, आप हमारे दुश्मनों का काम कर रहे हैं क्योंकि हमारा लोकतंत्र इस पर निर्भर करता है कि लोग यह जानते हैं कि उनका वोट मायने रखता है।
ट्रंप हाल के दिनों में कहते रहे हैं कि गैर निष्पक्ष मीडिया और अन्य अनियमितताओं के कारण चुनाव में उनके खिलाफ धांधली हो रही है।