दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने शुरु किया संयुक्त नौसैन्य अभ्यास

सियोल। उत्तर कोरिया द्वारा अपनी सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर एक परमाणु परीक्षण करने या मिसाइल लॉन्च की संभावना के बीच दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने सोमवार को संयुक्त नौसेना अभ्यास शुरू किया। समाचार एजेंसी ‘एफे’ के मुताबिक, यह सैन्य अभ्यास पूर्वी और पश्चिमी सागरों (क्रमश: जापान सागर और पीला सागर) में एक साथ किया जा रहा है।

south-korea-and-america-joint-military-operation-begins

दक्षिण कोरियाई नौसेना ने एक बयान में कहा कि अमेरिका ने अभ्यास में भाग लेने के लिए परमाणु शक्ति चालित एक विमान वाहक -अमेरिका यूएसएस रोनाल्ड रीगन को भेजा है। बयान के मुताबिक, इस अभ्यास का उद्देश्य उत्तर कोरिया के उकसावे का मुकाबला करने के लिए मित्र देशों की सेनाओं की मजबूत प्रतिबद्धता और उनकी समुद्री पारस्परिकता को दर्शाना है।

उत्तर कोरिया के विशेष कमांडो पनडुब्बियों और विमानों की मदद से समुद्री सीमारेखा के पार घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं, जिसे देखते हुए यह संयुक्त युद्धाभ्यास किया जा रहा है।वर्तमान में दक्षिणी कोरिया में 28,500 अमेरिकी जवान तैनात हैं। यह संयुक्त अभ्यास ऐसे समय में किया जा रहा है, जब उत्तर कोरिया द्वारा सोमवार को सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की 71वीं वर्षगांठ के आसपास एक और परमाणु परीक्षण करने की आशंकाओं के बीच प्रायद्वीप में तनाव बढ़ रहा है।