पाकिस्तानी अखबार : भारत-पाकिस्तान सीमा पर शांति वक्त की जरूरत

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के एक अखबार ने रविवार को लिखा कि भारत द्वारा पाकिस्तान से लगी अपनी पूरी सीमा को वर्ष 2018 तक सील करने के फैसले का अनिवार्य रूप से स्वागत होना चाहिए। अखबार ने कहा है कि सीमाओं पर शांति रहे, यह वक्त की जरूरत है। ‘द डेली टाइम्स’ ने दोनों देशों के नेतृत्व से यह भी आग्रह किया है कि वे सभी द्विपक्षीय मुद्दों ‘शिष्ट तरीके से’ हल करें और एक-दूसरे के विचारों और शिकायतों को ध्यान से सुनें और उनका समाधान निकालें।

pakistani-newspaper-india-pak-border-needed-peace

अखबार ने संपादकीय में लिखा है कि भारत और पाकिस्तान को फिर से सौहार्दपूर्ण संबंध बनाने के लिए गंभीर प्रयास करने चाहिए। दैनिक ने आग्रह किया है कि पाकिस्तान से लगी भारत की पूरी 3323 किलोमीटर सीमा को सील करने के फैसले को पाकिस्तान को सकारात्मक रूप से लेना चाहिए।अखबार ने कहा है कि सीमा सील करने से न केवल ड्रग्स और अन्य चीजों की तस्करी रोकने में मदद मिलेगी बल्कि भारत के सीमापार से गतिविधियां चलाने के लगातार किए जाने वाले दावे भी समाप्त हो जाएंगे।

जम्मू एवं कश्मीर के उड़ी में सेना के शिविर पर आतंकी हमले और उसके बदले में भारत द्वारा पाकिस्तानी सीमा में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करने के बाद से भारत और पाकिस्तान के संबंध लगातार खराब होते गए हैं। उड़ी में हुए आतंकी हमले में 19 भारतीय सैनिक शहीद हुए थे। संपादकीय में कहा गया है कि सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स और भारत के सीमा सुरक्षा बल के बीच बैठक कराई जानी चाहिए। तनाव कम करने की जरूरत है।

इसमें कहा गया है कि दोनों देशों को द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने और विवाद के सभी मुद्दों को सुलझाने के लिए हाथ मिलाना चाहिए।संपादकीय में कहा गया है कि पाकिस्तान और भारत को नियंत्रण रेखा पर पूरी तरह से युद्धबंदी के लिए एक रणनीति बनानी चाहिए। दोनो देशों को अपने इस संकल्प की तसदीक करना चाहिए कि वे बल प्रयोग या बल प्रयोग की धमकी की किसी भी हाल में सहायता नहीं लेंगे। इसमें यह भी कहा गया है कि अब तक ऐसे कोई संकेत नहीं मिले हैं जिससे लगे कि दोनों देशों के बीच जल्दी अच्छे संबंध बनेंगे।