फेयरवेल स्पीच में इमोशनल हुए ओबामा, कहा राष्ट्रपति से बेहतर इंसान बना

वॉशिंगटन। दुनिया के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति बराक ओबामा की मुश्किल घड़ी कल आ ही गई जब उन्होंने अपने देश की जनता को आखिरी बार संबोधित किया। सबसे ताकतवर राष्ट्रपति फेयरवेल स्पीच में इतना इमोशनल हो जाएगा किसे से सोचा भी नहीं था लेकिन ऐसा हुआ। ओबामा ने कहा मिशेल और मुझे पिछले कुछ हफ्तों से शुभकामनाएं मिल रही हैं और आज मैं शुक्रिया कहना चाहता हूं। हर दिन मैंने आपसे बहुत कुछ सीखा मैं राष्ट्रपति से एक बेहतर इंसान बना।

बीते 8 सालों में नहीं हुआ कोई आतंकी हमला:-

8 साल तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे ओबामा ने कहा अमेरिका एक बेहतर और मजबूत देश है। यहां पर बीते 8 साल में एक भी आतंकी हमला नहीं हुआ। अमेरिका के लिए जो भी खतरा पैदा करेगा वो सुरक्षित नहीं रहेगा। लादेन सहित कई आतंकियों को हमने मार गिराया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका में नस्लवाद व्यवहारिक नहीं है। हमने बीते आठ सालों में कभी भी मुस्लिमों के साथ भेदभाव नहीं किया असल में हमें जागरुक होने की जरुरत है न कि समुदाय से डरने की।

मिशेल के लिए इमोशनल हुए ओबामा:-

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने सीखा है कि बदलाव तभी होता है जब आदमी की भागीदारी हो और मां के लिए सभी एक साथ आते हों। आने वाले 10 दिनों में देश एक बार फिर से लोकतंत्र की ताकत देखेगा कि कैसे एक चुना हुआ राष्ट्रपति सत्ता संभालता है। इसके अलावा उन्होंने मिशेल की काफी तारीफ की और रो पड़े। उन्होंने कहा कि बीते 25 सालों में तुम सिर्फ मेरी बीवी और मेरे बच्चों की मां ही नहीं बल्कि मेरी बेस्ट फ्रेंड बनी, तुमने मुझे गर्व महसूस कराया।