नेपाल तय करेगा सार्क सम्मेलन की नई तारीख

काठमांडू। दक्षेस के वर्तमान अध्यक्ष नेपाल ने कहा है कि वह स्थगित हुए 19वें दक्षेस सम्मेलन के आयोजन के लिए जरूरी पहल करेगा और दबाव बनाने के लिए सदस्य देशों से बातचीत करेगा। नेपाल के विदेश मंत्री प्रकाश शरण महात ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संघ(दक्षेस) के सदस्य देशों को सभी देशों की भागीदारी के साथ सम्मेलन के आयोजन के प्रति निश्चित रूप से संवेदनशील होना चाहिए।

nepal-will-decide-the-new-date-of-the-saarc-summit

19वां दक्षेस सम्मेलन नवंबर में पाकिस्तान में होना था। यह क्षेत्र में आतंकवाद की चिंताओं को लेकर भारत, बांग्लादेश, भूटान, अफगानिस्तान और श्रीलंका के इससे अलग हो जाने के कारण स्थगित कर दिया गया। हिमालयन टाइम्स की खबर के मुताबिक, महात ने कहा कि आठ सदस्यीय दक्षिण एशियाई समूह क्षेत्रीय सहयोग और विकास को आगे बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण मंच है। यह सदस्य देशों के बीच समरसतापूर्ण संबंधों को दर्शाता है।

महात ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को मेजबान के रूप में सम्मेलन कराने के लिए अनुकूल माहौल बनाना चाहिए। 19वां दक्षेस सम्मेलन 9-10 नवंबर को होना तय था। इससे पहले नेपाल के विदेश मंत्री ने कहा था कि एक सदस्य भी सम्मेलन में भाग नहीं लेता तो सम्मेलन नहीं हो सकता क्योंकि यह आम सहमति के आधार पर काम करता है। महात 71वें संयुक्त राष्ट्र महासभा से नेपाली प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर लौटे हैं। महासभा की बैठक में भाग लेने के अलावा महात ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से भी मुलाकात की थी।