सेंसर बोर्ड से लड़ते-लड़ते थक गया : विक्रम भट्ट

मुंबई। विक्रम भट्ट का कहना है कि वह केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) से लड़ते-लड़ते थक गए हैं और वह योद्धा नहीं, बल्कि एक असहाय फिल्मकार हैं। भट्ट ने ये बातें आगामी फिल्म ‘राज रीबूट’ के प्रोमोज को सिनेमाघरों के लिए ‘यू/ए’ और टीवी पर दिखाए जाने के लिए ‘ए’ सर्टिफिकेट मिलने पर कही।

vikram-bhatt

भट्ट ने कहा, मैं हैरान हूं। थक गया हूं। मुझे टीवी के लिए सेंसर के प्रमाण-पत्र की आवश्यकता क्यों होनी चाहिए? ‘आहट’ और ‘फियर फाइल्स’ को प्रमाणन की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन डरावनी नहीं होते हुए भी मेरे 20 सेकंड के प्रोमो को प्रमाण-पत्र की आवश्यकता होती है। मैं क्या कहूं? उन्होंने कहा कि वह इसे कैसे बदल सकते हैं। आखिर वह एक फिल्मकार हैं, योद्धा नहीं। यदि वह योद्धा होते तो शायद कुछ करते। ‘राज रीबूट’ में इमरान हाशमी, कीर्ति खरबंदा और गौरव अरोड़ा जैसे कलाकार हैं। विशेष फिल्म्स द्वारा निर्मित यह फिल्म 16 सितम्बर को रिलीज होगी।