परिवर्तन यात्रा के जरिए भाजपा परखे की अपनी ताकत

देहरादून। 12 नवम्बर से प्रदेश में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की अगुवाई में अपने चुनावी जंग का ऐलान करने जा रही है। सूत्रों की माने भाजपा परिवर्तन यात्रा के जरिए अपनी ताकत औऱ संभावित दावेदारों का शक्ति परीक्षण भी करना चाह रही है। पार्टी अपने संभावित दावेदारों की ताकत औऱ जनाधार और अपनी तैयारियों का जायजा भी लेगी।

amit-shah

सूत्रों की माने तो पार्टी की इसी रणनीति को देखते हुए सभी संभावित दावेदारों नने अपने क्षेत्रों कैम्प कर अपनी तैयारियों का जायजा लेना शुरू कर दिया है। क्योंकि सूबे में भाजपा की चुनावी रणनीति के लिए ये यात्रा बहुत अहम है। क्योंकि भाजपा अपनी चुनाव में उतरने से पहले इस यात्रा के जरिए फुल-ड्रेस रिहर्सल कर रही है। तैयारियों के साथ भाजपा का फोकस उन सीटों पर ज्यादा रहेगा जो भाजपा के पास नहीं हैं।

इसके साथ ही इस यात्रा के माध्यम से राज्य में मौजूद छोटे दलों को अपने खेमें से जोड़ने की कवायद पर भी पार्टी का जोर होगा जिससे चुनावी जंग के दौरान उसे वोटों के बंटवारे का खतरा ना हो सके। साथ ही इस यात्रा के जरिये पार्टी जनता में अपनी स्तिति का आकलन भी कर सकेगी। इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने पार्टी की बूथ स्तर पर की गई तैयारी का आंकलन कर पार्टी आलाकमान से अवगत करा दिया था। जिसके बाद अब इस यात्रा को पार्टी की चुनावी तैयारियों को गति देने के लिहाज से अहम माना जा रहा है।