वर्ष 2016-17 में 65 विभूतियों को मिलेगा यश भारती पुरस्कार

लखनऊ। प्रदेश के संस्कृति विभाग की ओर से वर्ष 2016-17 में 65 विभूतियों को यश भारती पुरस्कार से सम्मानित किए जाने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश के संस्कृति सचिव डॉ हरिओम ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में 54 विभूतियों की सूची जारी की गई थी लेकिन बाद में 11 अन्य लोगों को भी इसमें जोड़ दिया गया है।

akhlesh_yes_bharti

संस्कृति विभाग के सचिव डॉ. हरिओम ने बताया कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 27 अक्टूबर को प्रदेश के नवनिर्मित लोक भवन में आयोजित समारोह में इन महानुभावों को सम्मानित करेंगे। इस सूची में वाराणसी के शास्त्रीय संगीतज्ञ राम कुमार मिश्रा, शास्त्रीय संगीतज्ञ नाजिम खान, पत्रकारिता एवं शिक्षण क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित करने वाले प्रो. राम मोहन पाठक, लखनऊ की गायिका पद्मा गिडवानी, गायक कमाल खान, पाक शास्त्र विशेष गुलाम कुरैशी तथा ज्योतिष विशेषज्ञ एवं राज पुरोहित पं. हरी प्रसाद मिश्रा को यश भारती से सम्मानित किया जाएगा।

इसके अलावा आगरा के होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. आलोक पारिख, मेरठ के चित्रकार नूर अल सबा, बांदा के शिल्पकार शाहिद हुसैन तथा भदोही के निर्यातक एवं उद्योगपति गुलाम शफीउद्दीन अंसारी उर्फ गुलामन को यश भारती पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

संस्कृति सचिव ने बताया कि यश भारती से सम्मानित होने वाली सभी विभूतियों को राज्य अतिथि का दर्जा प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार के तहत विभूतियों को 11 लाख रुपये नगद, अंगवस्त्र व प्रशस्तिपत्र प्रदान किया जाएगा।