केन्द्रीय मंत्री कलराज ने मुलायम पर अखिलेश को लेकर कसा तंज

लखनऊ। केंद्रीय कैबिनेट मंत्री व भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र ने गुरुवार को कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) के भीतर जो कलह मची है उससे प्रदेश की जनता का काफी नुकसान हो रहा है। मुलायम पर चुटकी लेते हुए कलराज ने कहा कि वह इस बात से ज्यादा दुखी हैं कि उनका बेटा (अखिलेश यादव) बहुत जिद्दी हो गया है।

कलराज मिश्र ने बातचीत के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि मुलायम इस बात को लेकर ज्यादा दुखी हैं कि उनका बेटा अखिलेश जिद्दी हो गया है और इसका खामियाजा प्रदेश की जनता को उठाना पड़ रहा है। कुशीनगर से लखनऊ पहुंचे कलराज ने कहा कि उप्र में भाजपा की जो परिवर्तन यात्राएं चल रही हैं उससे ऐसा लग रहा है कि उप्र की जनता अब परिवर्तन चाहती है। जनमानस यह विचार बना चुका है कि इस बार उप्र में भाजपा की सरकार बनवानी है।

kalraj-mishra

नोटबंदी को लेकर जनता के बीच मचे हाहाकार के सवाल पर उन्होंने कहा, “जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ है। यह परेशानी बस कुछ दिनों की है। इसके बाद इसका लाभ जनता को ही मिलेगा। जनता से ज्यादा परेशान वो लोग हैं जिनके पास कालाधन मौजूद है।”भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि हालांकि जनता कष्ट झेल रही है लेकिन आने वाले दिनों में देश की आर्थिक स्थिति और मजबूत होगी और जनता को इसका फायदा मिलेगा।

गाजीपुर की रैली में मुलायम द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को घमंडी बताने के सवाल पर कलराज ने कहा कि मुलायम इस बात से ज्यादा दुखी नहीं हैं कि जनता को परेशानी हो रही है बल्कि वह इस बात से अधिक दुखी हैं कि उनका बेटा जिद्दी हो गया है और उनकी बातें नहीं सुन रहा है। विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा? इसके सवाल पर कलराज ने कहा कि भाजपा के पास मुख्यमंत्री लायक कई चेहरे हैं। जब समय आएगा और जिसको जिम्मेदारी दी जाएगी, वह पूरी शिद्दत के साथ अपनी भूमिका निभाने में समर्थ होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा के भीतर हर बात का निर्णय एक प्रक्रिया के तहत ही होता है। चुनाव में मुख्यमंत्री कौन होगा या उसके बाद कौन होगा यह तय करना केंद्रीय संसदीय बोर्ड का काम है। संसदीय बोर्ड जिसको जिम्मेदारी सौंपा जाएगा वह अपनी जिम्मेदारी निभाएगा।यह पूछे जाने पर कि लखनऊ में 24 दिसंबर को होने वाली मोदी की रैली स्थगित क्यों हुई? इस पर कलराज ने कहा, “मुझे इसकी जानकारी नहीं है। अगर नेतृत्व ने ऐसा कोई फैसला लिया होगा तो इसकी कुछ वजह होंगी। मैं इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कह सकता।”