गाजीपुर से करेंगे मुलायम सपा के चुनावी अभियान का शंखनाद

गाजीपुर।समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव बुधवार को उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में चुनावी रैली करेंगे और जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश करेंगे। इस रैली की काफी लंबे समय से तैयारी की जा रही थी ताकि लोगों की भीड़ जुटाकर इस रैली को सफल बनाया जा सकें। हालांकि इस रैली में सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उपस्थिति को लेकर असमंजस बना हुआ है क्योंकि गाजीपुर की इस रैली में कौमी एकता दल की अहम भूमिका होगी। अखिलेश कौमी एकता दल व सपा के विलय को लेकर विरोध में थे जिसके चलते चाचा शिवपाल और भीतेजे में तनातनी भी हुई थी।

mulayam

शिवपाल का दावा पीएम की रैली से होगी बड़ी :-

समाजवादी पार्ट के यूपी अध्यक्ष शिवपाल यादव ने दावा किया है कि हाल ही में गाजीपुर में आयोजित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से ज्यादा बड़ी ये रैली होगी जिसमें बड़ी तादात में लोगों के आने की आशंका जताई जा रही है। इसके साथ ही रैली में बड़े पैमाने पर इंतजाम भी किए गए है।

shivpal

रैली के जरिए शक्ति प्रदर्शन करेंगे मुलायम:-

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की रजामंदी के बगैर ही सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने कौमी एकता दल का पार्टी में विलय कर लिया है। गाजीपुर के मोहम्मदाबाद सीट पर मुख्तार अंसारी का के भाई सिबगतुल्लाह अंसारी विधायक है वहीं सैदीपुर, जंगीपुर, जमानिया और गाजीपुर विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी का कब्जा है। ऐसे में इस रैली का आयोजन करके सपा प्रमुख यूपी के आगामी विधानसभी चुनावों से पहले विरोधियों को अपना शक्ति प्रदर्शन जरुर करना चाहेंगे।

mukhtar-mulayam

एक्सप्रेस वे के लोकार्पण में मौजूद था सपा परिवार:-

हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने देश के सबसे लंबे एक्सप्रेस वे आगरा टू लखनऊ का लोकार्पण किया था। इस 6 लेन वाले एक्सप्रेस वे का शुभारंभ करने के सपा का पूरा कुनबा मौजूद था जिनमें मुख्यमंत्री सहित मुलायाम और शिवपाल भी मौजूद थे। ऐसे में इस रैली में अखिलेश का आने पर सस्पेंस बरकरार है।

akhilesh-mulayam