नोट बंदी में फरेबी दुल्हन ने ढाया सुसराल वालों पर कहर

गाजियाबाद। विवाह के शुभ गीतों और रस्मों के साथ गाज़ियाबाद के पंकज ने अलीगढ़ जिले के गांव जवां की एक लड़की से विवाह किया था। सारी रस्मे कसमें हुईं। सात फेरा लेनी वाली वो दुल्हन शादी के बाद विदा होकर अपनी ससुराल आई। शादी का खुमार अभी ससुराल वालों पर चढ़ा ही था कि इस फरेबी दुल्हन ने एक ऐसा कारनामा कर दिया। जिसके बाद लोगों ने अपनी अंगुलियां दांतों तले दबा लीं।

dulhan

शादी के महज 48 घंटों में फरेबी दुल्हन ने दूल्हे को नशीली दवाएं खिलाकर घर में रखे पैसों के साथ जेवरों पर हाथ साफ किया। इसके बाद वह सारा माल समेट पर वह रफ्रू चक्कर हो गई। घटना गाजियाबाद के गोविंदपुरी इलाके की है। बता दें कि बीते 25 नवम्बर को पंकज की शादी अलीगढ़ के गांव जवां की रहने वाली एक लड़की से हुई थी। 26 को बारात वापस आई 27 को सारी रस्मे पूरी होने के बाद पंकज ने सिर दर्द होने की बात अपनी नई नवेली दुल्हन से कही जिस पर उसने चाय के साथ नशे की गोलियां खिला दीं। नशे में सोने पर वह फरेबी दुल्हन अपने साथ घर से 70 हजार रुपये कैश और 6 लाख के जेवर लेकर चंपत हो गई।

मामले की सुबह जानकारी होने पर जब घर वालों ने दुल्हन को जमकर तलाशा और फिर पुलिस के पास आकर अपनी आपबीती बताई। परिजनों ने दुल्हन के बहनोई पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने ही हमारी बहू को घर से भागने में मदद की है। फिलहाल पुलिस फरेबी दुल्हन को तलाशने में जुटी है। पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।