अब कोहरा नहीं रोक सकेगा विमानन सेवा

लखनऊ।सूबे की राजधानी लखनऊ के हवाई अड्डे पर अब कोहरे की वजह से उड़ानें प्रभावित नही होंगी। अधिकारियों के मुताबिक, अब लखनऊ हवाईअड्डा कैट-3 बी तकनीक से लैस हो गया है। हवाईअड्डे के अधिकारियों ने बताया कि हवाई अड्डे को गुरुवार को डीजीसीएसे मंजूरी मिल गई।

Air India

 

 

लखनऊ में कैट 3 बी के उपकरण कुछ महीनों पहले ही लगा दिए गए थे, सिर्फ मंजूरी मिलने का इंतजार था। अब लखनऊ हवाई अड्डे पर घने कोहरे में भी विमान उतर सकेंगे। अधिकारियों ने बताया कि कैट-3 तकनीक को हासिल करने में करीब 40 करोड़ रुपये का खर्च आया है। इस बार सर्दियों में विमान से लखनऊ आने वाले यात्रियों को कोहरा होने पर निराश नहीं होना पड़ेगा।

कैट-3 बी श्रेणी के तहत अत्याधुनिक उपकरणों से 50 मीटर की दृश्यता होने पर भी विमान उतारे जा सकेंगे। दिल्ली के बाद लखनऊ और जयपुर ऐसे हवाईअड्डे बन गए हैं, जिनको कैट-3 बी का दर्जा मिला है।इसके अलावा दुनिया भर में चंद हवाईअड्डे ही ऐसे हैं, जिन्हें यह दर्जा मिला है। मौजूदा समय में लखनऊ हवाईअड्डे से घरेलू व अन्तर्राष्ट्रीय 90 उड़ानें संचालित होती हैं। इनमें से 45 लखनऊ आती हैं और इतनी ही संख्या में उड़ानें यहां से दूसरे हवाईअड्डे के लिए उड़ान भरती हैं।