औरतें हर घर की लक्ष्मी होती हैं- बी चंद्रकला

मेरठ। गांवों में स्वच्छता और शौचालय को लेकर जिलाधिकारी बी चंद्रकला ने अब मोर्चा संभाल रखा है। इसी के तहत उन्होंने जनपद के विकास खण्ड सरुरपुर खुर्द के ग्राम ईकड़ी के प्राथमिक विद्यालय प्रांगण में आयोजित ग्रामीणों की चौपाल को सम्बोधित करते हुए कहा कि महिलायें हर घर की लक्ष्मी होती है। जिनके सम्मान, सुरक्षा के लिए हर घर में इज्जत घर (शौचालय) का निर्माण आज के युग की सबसे महत्वपूर्ण जरुरत है।

b-chandrakala

उन्होंने ग्रामीणो को सम्बोधित करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि सभी लोग अपनी मानसिक सोच में परिवर्तन लाकर इज्जतघर का उपयोग सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि दीपावली व भाईदूज पर्व पर हम सभी संकल्प लेंगे और अपने घर की महिलाओ व बहनों को उपहार स्वरूप इज्जत घर भेंट करेंगे।

उन्होंने ग्रामवासियों से कहा कि प्राचीन काल में मानव जीवन की आवश्यकता  है। किन्तु आज हमने हर क्षेत्र में काफी सफलताएं हासिल की है, लेकिन अभी भी पुरानी कुप्रथा व बुराईयों को त्यागने में हम संकोच करते हैं। जो हमारे जीवन पर दुष्प्रभाव डालने के साथ अनेक बीमारियों न्यौता देती हैं, जिससे निजात हेतु अनावश्यक धन का व्यय होता है।

उन्होंने ग्रामीणजनों का आव्हान किया कि बदलते परिवेश में खुले में शौच जैसी चली आ रही कुरूतियों का त्याग कर अपने घर में इज्जत घर का निर्माण कर निरोगी बने।  जिलाधिकारी ने ग्रामवासियों से कहा कि विकास का मतलब बिल्डिंग, सड़के, वाहन, मोबाइल आदि से ही नहीं होता, बल्कि सबसे पहले हमें शिक्षित व आचरणवान बनना जरुरी होता है, जिसे हम दूसरों के प्रति व्यवहार में प्रदर्शित कर अपनी छाप छोडते है तथा बेहतर समाज की संरचना में योगदान दे सकें।

rahul-gaupta(राहुल गुप्ता, संवाददाता)