एक्शन मोड में नजर आई डीएम चंद्रकला, सफाई का किया निरीक्षण

मेरठ। अफसर बिटिया के नाम से जाने जाने वाली बी चंद्रकला के काम करने के तरीके से सभी लोग वाकिफ है और एक बार फिर से इस बिटिया ने अपने काम के प्रति लगन से लोगों को हैरान कर दिया। मेरठ की नियुक्त डीएम ने शनिवार को सुबह 7 बजकर 15 मिनट पर नगर निगम के सभी अधिकारियों को तलब लिया और पूरे काफिले को लेकर औचक निरीक्षण के लिए शहर में निकल गई। हालांकि डीएम का ये काफिला कहां जाएगा इसकी जानकारी किसी भी अधिकारी को नहीं थी।

dm-b-chandrakala-seen-in-action-mode-done-cleaning-inspection2

डीएम बी चंद्रकला सबसे पहले विश्वविद्यालय रोड से होते हुए तेजगढ़ी चौपले पर पहुची और चौपले पर बने पार्क पर उनकी नजर गई जिसकी हालत खराब थी। इस पार्क में गाय बंधी हुई थी और पूरा पार्क गोबर व गंदगी से भरा हुआ था जिसके बाद चंद्रकला ने सबसे पहले गाय को गौशाला भेज दिया उसके बाद न केवल गाय के मालिक की फटकार लगाई बल्कि उस पर जुर्माना भी लगाया। उसके बाद कॉम्प्लेस के सामने कूड़े का ढेर देखकर तुरंत सफाई का आदेश देते हुए नगर निगर की जमकर लताड़ा।

इसके बाद जैसे ही डीएम चंद्रकला का काफिला थोड़ा सा आगे बढ़ा उन्हें एक सरकारी स्कूल दिखा। हाथोहाथ स्कूल की सफाई और शिक्षा का स्तर जाने के लिए स्कूल में प्रवेश किया लेकिन वहां के हालात देखते ही वो हैरत में पड़ गई। क्लासरुम में बच्चें बैठे हुए थे और मास्टर जी क्लास के बाहर बैठकर गप्पे लड़ा रहे थे। आनन-फानन में डीएम चंद्रकला क्लासरुम में पहुची और उनको देखकर हड़बड़ा कर मास्टर जी भी क्लास में चले गए।

इसके बाद डीएम ने न केवल मास्टर जी को जमकर लताड़ा बल्कि स्कूल की साफ-सफाई का भी जायजा लिया। मास्टर जी ने अपने सफाई देते हुए कहा वो बाहर तो वैसे ही बैठ गए थे साथ ही उन्होंने कहा कि स्कूल में साफ-सफाई के लिए कोई नहीं आता बल्कि बच्चें ही अक्सर सफाई करते हैं। डीएम ने फिलहाल मास्टर जी को चेतावनी देकर छोड़ दिया और रोज मर्रा की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए समाज कल्याण अधिकारी को बोला।

rahul-gaupta  (राहुल गुप्ता, संवाददाता)