दिल्ली में शुरू हुई टुन्न सिंह की अनोखी पाठशाला

नई दिल्ली। दिलवालों की दिल्ली युवा पार्टी हब है, जहां हर किसी को पार्टी का बहाना चाहिए। इसी कड़ी में दिल्लीवालों के लिए एल्कोहलिक पेय पदार्थो की कंपनी ‘इंडोस्प्रिट’ ने पॉकेट फ्रेंडली रेस्तरां-बार चेन ‘बारशाला’ की नई शाखा खोली है, जिसके माध्यम से न केवल वाजिब दामों में शराब एवं खानपान उपलब्ध है। इंडोस्प्रिट ने इसी कड़ी में दक्षिणी दिल्ली के ईस्ट ऑफ कैलाश समुदाय केंद्र में अपना चौथा आउटलेट शुरू किया। इससे पूर्व बारशाला के तीन अन्य आउटलेट जनकपुरी, कड़कड़डूमा और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पास हैं।

Wine

इंडोस्प्रिट समूह के प्रबंध निदेशक समीर महेंद्रू ने बताया, “पिछले दस सालों के दौरान हमें महसूस किया कि 25 वर्ष से 70.75 या उससे अधिक का वर्ग शराब उपभोक्ता का है। लेकिन इनमें एक बड़ा वर्ग युवाओं का है, जो अक्सर सस्ता व पॉकेट फ्रेंडली एन्वायरमेंट ढूंढ़ते हैं, जहां वे बेरोक-टोक शराब और खाने-पीने का लुत्फ उठा सके और पिछले कुछ वर्षों में विभिन्न अवधारणाओं एवं आकर्षक ऑफर के साथ पॉकेट फ्रेंडली रेस्तरां-बार खुले हैं।”

इसी पक्ष को ध्यान में रखते हुए हमने पॉकेट-फ्रेंडली के साथ-साथ कुछ और बातों पर काम करते हुए ‘बारशाला’ की अवधारणा तैयार की। जहां हमने सामाजिक समीकरण के साथ-साथ हर उस व्यक्ति को ध्यान में रखा है।

उन्होंने कहा, “हमारा उद्देश्य शराब सेवन को बढ़ावा देना कतई नहीं है।”

वह कहते हैं, “हम आम लोग जो इसका सेवन करते हैं उनके बीच ‘पियो और पीने दो’ का संदेश देना चाहते हैं। ध्यान रखा जाएगा कि इसकेचलते सामाजिक गंदगी, अपवाद या अन्य आम लोगों को परेशानी न हो। इसके अलावा हमने ‘टुन्न सिंह’ को अपना मैस्कट बनाया है।”

ईस्ट ऑफ कैलाश के बाद टुन्न सिंह, पीने वालों के पैराडाइज ‘बारशाला’ को अगले तीन महीने में 16 और स्थानों पर ले जाएंगे।