शारापोवा की गैरमौजूदगी का टेनिस पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा : वेसनिना

मास्को| रूस की ओलम्पिक विजेता खिलाड़ी एलेना वेसनिना का कहना है कि मारिया शारापोवा की बीते कुछ महीनों से अंतर्राष्ट्रीय टेनिस में गैरमौजूदगी का विश्व टेनिस पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा। समाचार एजेंसी तास के मुताबिक, स्विट्जरलैंड स्थित खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) ने मंगलवार को शारापोवा पर लगे दो साल के प्रतिबंध को घटाकर 15 महीने कर दिया। यह प्रतिबंध 26 जनवरी 2016 से लागू होगा और अगले साल 26 अप्रैल तक चलेगा।

sarapoa

वेसनिना ने मंगलवार को कहा, “यह निश्चित ही अच्छी खबर है। टूर्नामेंटों में हम मारिया को बहुत याद कर रहे थे क्योंकि वह बड़े स्तर की टेनिस खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा, “सप्ताह भर प्रतिबंधित दवाएं लेने पर इतने लंबे समय का प्रतिबंध लगाना सही नहीं है।”

अंतर्राष्ट्रीय टेनिस संघ (आईटीएफ) ने आठ जून को डोपिंग की दोषी पाए जाने पर शारापोवा पर दो साल का प्रतिबंध लगाया था। रूसी खिलाड़ी ने इस प्रतिबंध के खिलाफ नौ जून को सीएएस में अपील दायर की थी।इस प्रतिबंध के कारण विश्व की पूर्व नंबर-1 खिलाड़ी शारापोवा रियो ओलम्पिक-2016 में हिस्सा नहीं ले पाई थीं।

गौरतलब है कि पांच बार ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुकीं शारापोवा इसी वर्ष आस्ट्रेलियन ओपन के दौरान मेल्डोनियम के सेवन की दोषी पाई गई थीं, जिसके बाद आईटीएफ ने उन पर प्रतिबंध लगाया था।