रांची एकदिवसीय : घर में मेहमानों पर अजेय बढ़त हासिल करना चाहेंगे धोनी

रांची| तीसरे एकदिवसीय में विराट कोहली के साथ मिलकर भारतीय टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथे एकदिवसीय मैच में अपने घर में अजेय बढ़त हासिल करने के इरादे से उतरेंगे। धौनी की आगुआई वाली भारतीय टीम बुधवार को झारखंड राज्य क्रिकेट संघ (जेएससीए) स्टेडियम में न्यूजीलैंड के खिलाफ भिड़ेगी।किवी टीम ने दिल्ली में खेले गए दूसरे मैच में छह रनों से जीत हासिल करते हुए श्रृंखला में 1-1 से बराबर कर ली थी। लेकिन मोहाली में धौनी ने विराट के साथ तीसरे विकेट के लिए 151 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत के करीब ला दिया था।

cyrus-mistry

धौनी इस मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए थे। उनके जाने के बाद विराट ने मनीष पांडे के साथ मिलकर टीम को जीत की दहलीज तक पहुंचाया था। यह मैच जीत कर भारत ने एक बार फिर श्रृंखला में 2-1 से बढ़त हासिल कर ली है।चौथे मैच में सभी की निगाहें स्थानीय खिलाड़ी धौनी पर होंगी। रांची की सड़कों से ही भारतीय टीम का सफर तय करने वाले धौनी से यहां की जनता को पिछले मैच में खेली गई पारी की ही उम्मीद होगी।इस मैच में भारत की सबसे बड़ी चिंता सलामी जोड़ी का रन न बनाना है। रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे दोनों टीम को मनमाफिक शुरुआत देने में असफल रहे हैं। रोहित ने अभी तक तीन मैचों में सिर्फ 42 रन बनाए हैं। वहीं रहाणे अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में असफल साबित हुए हैं।

तीसरे नंबर पर विराट कोहली हैं जोकि भारतीय बल्लेबाजी की रीढ़ की हड्डी हैं। इस श्रृंखला में भारत ने दोनों मैच कोहली की ही शानदार बल्लेबाजी के दम पर जीते हैं। टीम की बल्लेबाजी काफी हद तक उनके ही इर्द-गिर्द घूमती है। इस मैच में भी उन पर काफी कुछ निर्भर करेगा।धौनी के इस मैच में भी चौथे नंबर पर ही बल्लेबाजी करने की उम्मीद है। उनके बाद मनीष पांडे, केदार जाधव और हरफनमौला हार्दिक पांड्या बल्लेबाजी क्रम की जिम्मेदारी संभालेंगे।

भारतीय गेंदबाजों ने इस श्रृंखला में बेहद प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। नई गेंद से उमेश यादव और हार्दिक पांड्या ने गेंदबाजी आक्रमण को बखूबी संभाला है। अंतिम ओवरों में जसप्रीत बुमराह की काट ढ़ूढ़ पाना अभी तक किवी टीम के लिए मुश्किल साबित हुआ है।स्पिन में लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने अभी तक अहम समय पर टीम को सफलता दिलाई है लेकिन अक्षर पटेल से टीम को और बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।पार्टटाइम स्पिन गेंदबाज जाधव ने भी इस श्रृंखला में अभी तक छह विकेट लिए हैं। धौनी ने जब भी उन्हें गेंद थमाई है जाधव ने कप्तान को निराश नहीं किया है। अपने घर में भी भारतीय कप्तान जाधव को गेंदबाजी कराएंगे इसकी पूरी संभावना है।

धौनी मैच जीतने वाली टीम में बदलाव करने के पक्षधर नहीं है। ऐसे में इस मैच में अंतिम एकादश में किसी बदलाव की उम्मीद नजर नहीं आती है। वहीं बुधवार को किवी टीम को कोशिश धौनी के घर में उनकी टीम को मात देते हुए श्रृंखला में वापसी करने की होगी। लेकिन कप्तान केन विलियमसन के लिए यह काम आसान नहीं होगा। टीम सिर्फ दो बल्लेबाजों के भरोसे यह श्रृंखला खेल रही है। सलामी बल्लेबाज टॉम लाथम ने टेस्ट श्रृंखला से ही भारतीय टीम के खिलाफ रन बनाए हैं। उनके अलावा किवी कप्तान के बल्ले से ही रन निकले हैं।

वरिष्ठ बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और रॉस टेलर बल्ले से नाकाम रहे हैं। पिछेल मैच में जिम्मी नीशम ने 57 रनों की पारी खेल टीम को संभाला जरूर था, लेकिन उनके प्रदर्शन में निरंतरता देखने को नहीं मिली है।किवी टीम की गेंदबाजी काफी प्रभावशाली रही है। टिम साउदी और ट्रेंट बाउल्ट के नेतृत्व में बाकी गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है।लेकिन कप्तान जानते हैं कि श्रृंखला में वापसी करने के लिए बल्लेबाजों का रन करना बेहद जरूरी है।

टीमें (संभावित)भारत : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान-विकेटकीपर), रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, जयंत यादव, अमित मिश्रा, जसप्रीत बुमराह, धवल कुलकर्णी, उमेश यादव, मनदीप सिंह और केदार जाधव।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), कोरी एंडरसन, ट्रेंट बाउल्ट, डग ब्रेसवेल, एंटन डेविक, मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, जिम्मी नीशम, ल्यूक रोंची (विकेटकीपर), मिशेल सैंटनर, ईश सोढ़ी, टिम साउदी, रॉस टेलर और बी.जे. वॉटलिंग (विकेटकीपर)।