कोहली ने गेंद से छेड़छाड़ के आरोपों को सिरे से नकारा

मोहाली (पंजाब)। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच से पहले शुक्रवार को ब्रिटिश अखबार द्वारा गेंद से छेड़छाड़ के सम्बंध में लगाए गए आरोपों को सिरे खारिज कर दिया है। कोहली ने कहा है कि ऐसी खबरों का कोई असर तब तक नहीं पड़ता जब तक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) उन्हें किसी गलत काम का दोषी नहीं मानती।

virat-kohli1

कोहली ने मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, “यह सिर्फ श्रृंखला से ध्यान हटाने के लिए किया गया है। मेरे लिए अखबार में छपी बात आईसीसी के फैसले से ज्यादा मायने नहीं रखती।”

कोहली ने कहा, “मैं अखबार नहीं पढ़ता। मुझे पांच दिन पहले बताया गया था कि ऐसी कोई चीज हुई है और मैं इस पर बहुत जोर से हंसा।”

कोहली ने कहा कि वह विवादास्पत निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) के अभी तक श्रृंखला में किए गए इस्तेमान से खुश हैं, लेकिन उन्होंने साथ ही कहा है कि इसकी सफलता का अंदाजा दो टेस्ट मैच के बाद नहीं लगाया जा सकता। कोहली ने कहा, “डीआरएस सभी को यह बताने का एक तरीका है कि फैसला सही लिया गया है या नहीं।”

भारतीय कप्तान ने कहा, “मैं इससे काफी खुश हूं। यह मैदानी अंपायर के फैसले को जांचता है और अगर आप अंपायर के फैसले को चुनौती देना चाहते हो तो आपके पास इसे जांचने का एक विकल्प है।”

उन्होंने कहा, “दो मैचों की बुनियाद पर यह पता लगाना की डीआरएस पर हम कहां तक पहुंचे हैं यह सही नहीं है। मैं आठ दिन के भीतर इस बात का अंदाजा नहीं लगा सकता। यह एक दम से बदलने वाली चीज नहीं है।”

चोटिल रिद्धिमना साहा की जगह पार्थिव पटेल को टीम में शामिल करने पर कोहली ने कहा, “पार्थिव ने शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने ऐसे हालात को समझने के लिए काफी क्रिकेट खेली है। वह घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं।”