कानपुर टेस्ट : भोजनकाल तक भारत के पास 308 रनों की बढ़त

कानपुर| अपना ऐतिहासिक 500वां टेस्ट मैच खेल रही भारतीय क्रिकेट टीम ने ग्रीन पार्क स्टेडियम पर जारी तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के पहले मैच के चौथे दिन रविवार को भोजनकाल तक चार विकेट के नुकसान पर 252 रन बना लिए हैं और मेहमान टीम पर 308 रनों की बढ़त हासिल कर ली है। भोजनकाल तक अजिक्य रहाणे 21 और रोहित शर्मा 18 रन बनाकर मैदान पर डटे हुए हैं। न्यूजीलैंड ने दिन के पहले सत्र में भारत के तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा।

तीसरे दिन (शनिवार) के अपने स्कोर एक विकेट पर 159 रनों से आगे खेलने उतरी मेजबान टीम अपने खाते में 16 रन ही जोड़ पाई थी कि कीवी टीम के स्पिन गेंदबाज मिशेल सेंटनर ने कल के नाबाद बल्लेबाज मुरली विजय (76) को पगबाधा आउट कर अपनी टीम को दिन की पहली सफलता दिलाई। विजय ने अपनी पारी में 170 गेंदे खेलते हुए आठ चौके एवं एक छक्का लगाया।

kanpur-test

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली दूसरी पारी में भी कुछ खास नहीं कर पाए और 18 के निजी स्कोर पर मार्क क्रेग की गेंद पर ईश सोढ़ी के हाथों कैच आउट होकर पवेलियन लौट गए।कोहली के आउट होने पर टीम का स्कोर 214 रन था। कल के नाबाद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (78) ने उपकप्तान रहाणे के साथ पारी को आगे बढ़ाया। दोनों के बीच 14 रनों की साझेदारी ही हो पाई थी कि पुजारा मेहमान टीम के गेंदबाज सोढ़ी की गेंद पर रौस टेलर को कैच थमा बैठे। पुजारा ने अपनी पारी में 152 गेंदे खेलते हुए 10 चौके लगाए।

इसके बाद रोहित ने रहाणे के साथ भारतीय पारी को आगे बढ़ाया और भोजनकाल तक टीम को 252 के आंकड़े तक पहुंचा दिया। दोनों के बीच पांचवे विकेट के लिए 24 रनों की साझेदारी हो चुकी है। न्यूजीलैंड की ओर से सोढ़ी को दो सफलताएं मिली, जबकि क्रेग और सेंटनर एक-एक विकेट लेने में कामयाब रहे।इससे पहले तीसरे दिन भारतीय स्पिन गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड को उसकी पहली पारी में 262 रनों पर ही ढेर कर दिया था। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जड़ेजा की घातक गेंदबाजी के आगे कीवी टीम टिक नहीं पाई थी। जड़ेजा ने पांच कीवी बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा था और अश्विन ने चार सफलताएं हासिल की थी। मेहमान टीम की ओर से कप्तान केन विलियमसन ने सर्वाधिक 75 रन बनाए थे।