आईएसएल : मुंबई एफसी के खिलाफ खेलेगा खिलाफ केरला ब्लास्टर्स

कोच्चि। केरला ब्लास्टर्स शुक्रवार को अपने घरेलू मैदान जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में जब मुंबई सिटी एफसी के खिलाफ हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे संस्करण का अपना चौथा मैच खेलने उतरेगा तो उसका मकसद घरेलू दर्शकों को इस सत्र की पहली जीत का तोहफा देना होगा। हालांकि दोनों ही टीमों के लिए यह मैच चुनौतीपूर्ण होने वाला है, क्योंकि दोनों ही टीमें अपने-अपने कप्तानों के बगैर यह मैच खेलने उतरेंगी।

isl-kerala-blasters-will-play-match-against-mumbai-fc

मुम्बई के कप्तान डिएगो फोर्लान ने शुरुआत के दो मैचों में टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी लेकिन वह नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के साथ हुए मैच में नहीं खेल सके थे। मुम्बई के कोच एलेक्जेंडर गुइमाराएस ने कहा, डिएगो इन दिनों चोट से उबरने का प्रयास कर रहे हैं। हमारी चिकित्सकीय टीम उनकी चोट पर पूरा ध्यान लगाए हुए है और उन्हें अतिशीघ्र मैच के लायक बनाने में जुटा है।

दूसरी ओर, केरल की अपनी समस्याएं हैं। बीते मैच में टीम की कमान संभालने वाले सेड्रिक हेंगबार्ट चोटिल हैं और उनके सामने मुंबई के खिलाफ होने वाले इस अहम मैच के लिए खुद को फिट करने की चुनौती है।

कोच स्टीव कोपेल ने कहा, हेंगबार्ट की सेवाएं अगले मैच में मिल पाएंगी या नहीं, इसे लेकर मैं कुछ नहीं कह सकता। हमें फिटनेस टेस्ट तक इंतजार करना होगा। वह मेडिकल स्टाफ के साथ मिलकर खुद को फिट करने में जुटे हैं।

केरल के लिए अच्छी खबर यह है कि उनके मार्की खिलाड़ी एरान ह्यूज अपनी अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धता पूरी कर इस मैच से टीम के साथ जुड़ने के लिए तैयार हैं।केरल ने अब तक तीन मैच खेले हैं और उसके खाते में सिर्फ एक अंक है। यह इस सीजन की एकमात्र ऐसी टीम है, जिसने अब तक गोल नहीं किया है। यह सब तब हुआ है, जब इस टीम के समर्थन के लिए हर मैच में 55 हजार लोग जुटे हैं।

कोपेल ने कहा कि उनकी टीम अपना भाग्य बदलने के प्रयास में जुटी है और अब जीत उसके करीब है। बकौल कोपेल, हमारे खिलाड़ियों को अपनी जिम्मेदारी का अहसास है और वे जीत की आस में जुटने वाले प्रशंसकों को खुशी प्रदान करने के अहसास को समझते हैं।

दूसरी ओर मुम्बई इस सीजन में अब तक अजेय है। मुम्बई के खाते में तीन मैचों से सात अंक हैं और कोच गुइमाराएस ने कहा है कि वह शुरुआती तीन मैचों से नौ अंक हासिल करने का लक्ष्य लेकर चल रहे थे।

हालांकि गुइमाराएस ने कहा, हमारे लिए यह अलग चुनौती होगी। हमारे खिलाड़ियों ने अब तक अच्छा आत्मविश्वास दिखाया है और मुझे उम्मीद है कि अगर हम मेजबान टीम से अच्छा नहीं खेले तो कम से कम खेल के स्तर के लिहाज से उसके बराबर जरूर रहेंगे।