आईएसएल : पहली जीत के लिए आज भिड़ेंगे केरला और कोलकाता

कोच्चि। हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे सत्र में बुधवार को केरला ब्लास्टर्स और एटलेटिको डी कोलकाता की टीमें कोच्चि के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में आमने-सामने होंगी। केरला को अपने पहले मैच में नार्थईस्ट युनाइटेड के हाथों हार मिली थी जबकि कोलकाता ने चेन्नइयन एफसी के साथ दो दिन पहले ड्रॉ खेला था। ऐसे में दोनों टीमें पहली जीत हासिल करने का प्रयास करेंगी। केरला ब्लास्टर्स के कोच स्टीव कोपेल इस मैच से काफी उम्मीद रखे हुए हैं क्योंकि उनकी टीम पहली बार अपने घर में खेलेगी। मैनचेस्टर युनाइटेड के इस पूर्व विंगर को पदभार ग्रहण करने के बाद से लगातार बताया गया है कि कोच्चि में मैच के दौरान जबरदस्त माहौल होता है और कोपेल इसी माहौल को लेकर काफी उत्सुक हैं।

isl-kerala-and-kolkata-will-fight-today-for-first-win

कोपेल ने अपनी टीम के दूसरे मैच से पहले संवाददाताओं से कहा, जैसा कि मुझे बताया गया है यह मैच अपने माहौल के लिए दुनिया भर में चर्चा हासिल करेगा। मेरे भारत आने के बाद से ही लोग इसके बारे में मुझसे बातें कर रहे हैं। इसलिए मैं भी इस माहौल को लेकर उत्सुक हूं।

केरला ब्लास्टर्स को नार्थईस्ट युनाइटेड के खिलाफ आईएसएल-3 के उद्घाटन मैच में हार मिली थी और उस मैच में यह टीम औसत नजर आई थी। कोपेल ने स्वीकार किया था कि टीम ने अपनी आक्रामकता नहीं दिखाई और आसानी से गेंद विपक्षी टीम को सौंपने के कारण ही गुवाहाटी से खाली हाथ लौटी।

बकौल कोपेल, हमने लगातार विपक्षी टीम को गेंद सौंपी। यह इसलिए भी हो सकता है क्योंकि वह हमारा पहला मैच था। मैं समझ नहीं पा रहा हूं लेकिन हमें अपने घरेलू समर्थकों के सामने हर हाल में बेहतर खेल दिखाना होगा। हमें गेंद पर बेहतर नियंत्रण रखना होगा। हमारे लिए गेंद के साथ बने रहना जरूरी है।

अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे होने के बाद भी केरला ब्लास्टर्स के लिए अपना दूसरा मैच आसान नहीं होगा क्योंकि उसके सामने पूर्व विजेता कोलकाता के रूप में एक कठिन प्रतिद्वंद्वी होगा। इस टीम ने अपने पहले मैच में मौजूदा चैम्पियन चेन्नईयन को 2-2 से ड्रॉ पर रोका था।

कोलकाता अपने घर से दूर पहला मैच खेलेगा लेकिन कोच जोस मोलिना टीम में कोई बदलाव करेंगे, इसकी सम्भावना कम ही नजर आती है। स्पेनिश कोच ने कहा, आप घर में खेल रहे हों या फिर घर से बाहर, फुटबाल नहीं बदलता। हमारी रणनीति में कोई बदलाव नहीं है। हम गेंद को अपने पास रखने, मुकाबला करने, रक्षा करने और जीत हासिल करने के लिए खेलेंगे। खेल को लेकर हमारी रणनीति नहीं बदली है।

मोलिना को इस बात का अच्छी तरह आभास है कि उनकी टीम बुधवार को केरला ब्लास्टर्स के 11 खिलाड़ियों के खिलाफ ही नहीं बल्कि 50 हजार स्थानीय प्रशंसकों के खिलाफ भी खेल रही होगी। मोलिना ने अपने खिलाड़ियों से कहा है कि वे केरला के प्रशंसकों से मिलने वाली चुनौती को अपने हक में करने का प्रयास करें।

मोलिना ने कहा, मैं जानता हूं कि हम 50 हजार घरेलू प्रशंसकों के खिलाफ खेल रहे होंगे लेकिन खिलाड़ियों के लिए ऐसे माहौल में खेलना हमेशा से अच्छा होता है। बहरहाल, खबर है कि बोत्स्वाना के डिफेंसिव मिडफील्डर ओफेंत्से नातो अभी तक चोट से उबर नहीं सके हैं जबकि क्लब ने अब तक पाब्वो गालाडरे के स्थानापन्न के नाम की घोषणा नहीं की है।