रूस का तेल उत्पादन 25 वर्षों के उच्चतम स्तर पर

मॉस्को। रूस का दैनिक तेल उत्पादन हाल के महीनों में 1.1 करोड़ बैरल पहुंच गया है, जो 1991 से लेकर अबतक का एक रिकॉर्ड है। अधिकारियों ने बुधवार को कहा, “अगस्त 2016 में तेल उत्पादन 1.071 करोड़ बैरल प्रतिदिन रहा, हालांकि यह पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 1.6 फीसदी कम है। पिछले साल की समान अवधि की तुलना में रोजाना तेल उत्पादन हालांकि अगस्त में 0.1 फीसदी की दर से बढ़ा है।”तेल की कीमतों को स्थिर करने के लिए चीन के शहर हांगझू में पांच सितंबर को जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर रूस तथा सऊदी अरब के बीच एक समझौते से पहले तेल के उत्पादन में यह वृद्धि सामने आई।

Crude-oil-570x395

समझौते के तहत दोनों देश तेल की कीमतों को स्थिर करने तथा उद्योग में तेजी से निवेश सुनिश्चित करने को लेकर बाजार पर नजर रखने तथा सिफारिशों का मसौदा तैयार करने के लिए एक कार्य समूह गठित करेंगे। सऊदी अरब तथा रूस दोनों देश महत्वपूर्ण तेल निर्यातक देश हैं और जून 2014 की शुरुआत के बाद तेल की कीमतों में कमी के कारण इनके राजस्व में खासी कमी आई है। साल 2016 के प्रारंभ में तेल की कीमत 13 वर्षो की रिकॉर्ड कमी के साथ प्रति बैरल 27 डॉलर से भी कम हो गई।